INDORE NEWS- डॉ आनंद राय सस्पेंड, सरकारी योजनाओं की आलोचना का आरोप

भोपाल।
व्यापम घोटाला के व्हिसल ब्लोअर रहे डॉ आनंद राय के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई शुरू हो गई है। दिल्ली से उनकी गिरफ्तारी के बाद उन्हें सस्पेंड कर दिया गया है। उन पर कई तरह के गंभीर आरोप लगाए गए हैं। 

डॉ आनंद राय (पीजीएमओ नेत्र रोग) हुकुमचंद चिकित्सालय इंदौर में चिकित्सा अधिकारी के पद पर पदस्थ थे। सपना एम लोवंशी अपर संचालक शिकायत शाखा संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं मध्यप्रदेश के हस्ताक्षर से दिनांक 7 अप्रैल 2022 को डॉक्टर राय का सस्पेंशन ऑर्डर जारी हुआ है। डॉ आनंद राय पर आरोप है कि उन्होंने राजनीति एवं राजनीतिक दल के निर्वाचन में भाग लिया। शासकीय सेवक के लिए निर्धारित मर्यादा तोड़ते हुए प्रेस एवं मीडिया से संपर्क किया और शासन एवं शासकीय योजनाओं की सार्वजनिक रूप से आलोचना की। 

उल्लेखनीय है कि 7 अप्रैल 2022 को डॉ आनंद राय का निलंबन आदेश सार्वजनिक होने से पहले डॉक्टर राय को दिल्ली के एक होटल से गिरफ्तार कर लिया गया था। उनके वकील विवेक तंखा ने बताया कि पुलिस ने उन्हें 8 अप्रैल 22 को हाजिर होने के लिए नोटिस दिया था परंतु इससे पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया। कर्मचारियों से संबंधित महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP karmchari news पर क्लिक करें.