BHOPAL NEWS- दिल्ली से चेन स्नैचिंग करने आया था, यहां भी पुलिस ने पकड़ लिया

भोपाल। शासकीय शिक्षक सतीश शर्मा की पत्नी रिंकी शर्मा के गले से सोने की चेन लूटने वाले बदमाश को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया कि बदमाश दिल्ली का रहने वाला है। बदमाश ने बताया कि दिल्ली पुलिस एडवांस हो गई है, तत्काल पकड़ लेती है इसलिए भोपाल में क्राइम करने के लिए आया था परंतु यहां भी पुलिस ने पकड़ लिया।

BHOPAL TODAY NEWS- रिश्तेदार के साथ मिलकर भोपाल में गुंडागर्दी करना चाहता था

डीसीपी अमित कुमार ने बताया कि बाराखंबा नई दिल्ली में रहने वाले बाबे उर्फ सन्नी साइमन, शांति इंकलेव परवलिया सड़क भोपाल निवासी असेर शाह उर्फ अस्सू को गिरफ्तार किया है। दोनों रिश्तेदार हैं। साइमन हिस्ट्रीशीटर है। उसके पिता रेलवे में क्लर्क रहे हैं। कोरोना की दूसरी लहर में उनकी मौत हो चुकी है। 22 अप्रैल को दोनों ने सीटीओ कॉलोनी बैरागढ़ निवासी शिक्षक सतीश शर्मा की पत्नी रिंकी शर्मा के गले से सोने की छीन ली थी।

BHOPAL CRIME NEWS- लूट करने के बाद दिल्ली भाग गया था, फिर भी पकड़ा गया

वारदात को अंजाम आरोपियों ने सुबह आठ बजे गुलमोहर शादी गार्डन कोहेफिजा में उस दौरान दिया जब रिंकी शर्मा पति की बाइक में बैठकर नेहरू नगर जा रही थीं। पुलिस को घटना स्थल के आसपास के फुटेज चेक किए। इसमें भोपाल निवासी असेर शाम का हुलिया मिला। पुलिस उसे पकड़कर पूछताछ की तो उसने जुर्म कबूल किया। उसने पुलिस को बताया कि वह अपने रिश्तेदार बाबे साइमन के साथ मिलकर लूट को अंजाम दिया था। साइमन ट्रेन से दिल्ली भाग गया है। पुलिस ने उसे जीआरपी की मदद से दबोचा।

DELHI NEWS- साइमन के खिलाफ हत्या से लेकर ब्लैक मेलिंग तक 8 FIR

रिंकी ने कोहेफिजा थाने को बताया था कि उनकी सोने की चेन 1 तोला वजनी थी। चेन की कीमत उन्होंने करीब 45 हजार रुपए बताई थी। साइमन के खिलाफ दिल्ली में 8 संगीन अपराध हैं। हत्या, हत्या के प्रयास, अड़ीबाजी, ब्लैकमेलिंग के आरोप में वह जेल जा चुका है। डीसीपी ने बताया कि साइमन की जमानत निरस्त करने के लिए दिल्ली पुलिस को भोपाल क्राइम ब्रांच पुलिस पत्र लिखेगी।

DELHI TODAY NEWS- कनॉट प्लेस पर हेलमेट से व्यापारी की हत्या कर दी थी

19 मई 2015 को कनॉट प्लेस इलाके में साइमन ने अपने तीन साथियों के साथ मिलकर कुरियर सर्विस बिजनेसमैन बीजू वर्गीस (40) की हेलमेट से हमलाकर हत्या कर दी थी। व्यापारी की हत्या रंगदारी नहीं देने पर की गई थी। पुलिस ने तब उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। बाद में साइमन को जमानत मिल गई। इसके बाद भी वह अपराध करता रहा। भोपाल की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया bhopal news पर क्लिक करें।