BHOPAL NEWS - इंजीनियर का शव फांसी पर लटका मिला, दो साल में माता-पिता और भाई को खो चूका था

भोपाल।
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में इंजीनियर ने घर में फांसी लगा ली। उसकी करीब एक साल पहले ही शादी हुई थी। रविवार रात उसका पत्नी से मनमुटाव भी हुआ था। हालांकि परिजनों ने मनमुटाव या झगड़े की बात से इनकार किया है। मौके से सुसाइड नोट नहीं मिला है। वह नगर निगम में सब इंजीनियर की जॉब छोड़कर खुद का इम्पोर्ट-एक्सपोर्ट का कारोबार शुरू करना चाहता था। दो साल में उसने पहले पिता फिर मां और भाई को खो दिया था। 

शाहपुरा के रुद्रा फेस-2 में रहने वाले आकाश तिवारी (29) इंजीनियर थे। उनकी करीब 8 महीने पहले सागर में रहने वाली सलोनी दुबे से शादी हुई थी। आकाश की पत्नी सलोनी ने बताया कि रविवार रात करीब साढ़े 12 बजे खाना खाने के बाद उनके बीच झगड़ा हुआ था। गुस्से में आकाश कमरे में चले गए। उन्होंने दरवाजा अंदर से लॉक कर लिया। कुछ देर तक आवाज नहीं आई, तो उसने आवाज लगाई, लेकिन जवाब नहीं आया। इसके बाद सलोनी ने पड़ोसियों को जगाया। पड़ोसी किसी तरह दरवाजा तोड़कर अंदर पहुंचे, तो आकाश फंदे पर मिला। इसके बाद सलोनी ने पुलिस को सूचना दी थी।

मामले की जांच कर रहे एसआई शुभम पांडे ने बताया कि सोमवार तड़के करीब 3 बजे आकाश के फंदे पर लटके होने की सूचना मिली। मौके पर पहुंचकर शव को पीएम के लिए भेज दिया। मौके से सुसाइड नोट नहीं मिला है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मौत के असल कारणों का खुलासा हो पाएगा।

सलोनी ने पुलिस को बताया 

आकाश के माता-पिता और बड़े भाई की पिछले दो साल में मौत हो चुकी है। उसके बाद से ही आकाश मानसिक तनाव में रहते थे। वह अक्सर रात में मां-बाबा चिल्लाते हुए उठ जाते थे। पिता की कोरोना और मां की कैंसर से मौत के बाद बड़े भाई को एक्सीडेंट में खो दिया था। उनकी मौत के बाद वे काफी टूट गए थे। वह कहते थे मां-बाबा सपने में आ रहे हैं। उन्होंने 4 महीने पहले नगर निगम की सब इंजीनियर की नौकरी छोड़ दी थी। वे पुराना मकान तोड़कर नया बनवा रहे थे।

सलोनी ने बताया कि मां-बाबा की मौत के बाद आकाश ने मेट्रिमोनियल साइट पर प्रोफाइल बनाया था। इसी के माध्यम से उनकी शादी मई 2021 हुई थी। शादी के बाद भोपाल आकर DPS में जॉब शुरू की। अभी सागर पब्लिक स्कूल में जॉब कर रही हैं। भोपाल की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया bhopal news पर क्लिक करें।