पाकिस्तान से बादल फिर उठने लगे, पढ़िए मध्यप्रदेश पर क्या प्रभाव पड़ेगा- MP WEATHER FORECAST

पाकिस्तान और अफगानिस्तान से बादलों का दल भारत में प्रवेश कर रहा है। इसे पश्चिमी विक्षोभ कहते हैं। जिसके कारण ठंड के मौसम में बारिश होती है। जनवरी 2022 से लेकर अब तक आठवीं बार पश्चिमी विक्षोभ तैयार हुआ है। किसानों के लिए यह निश्चित रूप से बेहद चिंता की बात है। 

मध्य प्रदेश मौसम पूर्वानुमान- बारिश होगी या नहीं

प्राइवेट मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि इस बार के वेस्टर्न डिस्टरबेंस का असर राजस्थान में दिखाई देगा। यानी पाकिस्तान और अफगानिस्तान से आने वाले बादल राजस्थान की सीमा में उत्तर दिशा की ओर तक सीमित रहेंगे। इनके मध्य प्रदेश आने की संभावना बहुत कम है। 

ग्वालियर-चंबल में वर्षा की संभावना 

भारत मौसम विज्ञान केंद्र के नाम से संचालित टेलीग्राम चैनल पर बताया गया है कि मध्यप्रदेश में भी बादल छाएंगे। कुछ इलाकों में हल्की बूंदाबांदी की संभावना है। मौसम विभाग का अनुमान है कि लोफर ग्वालियर चंबल क्षेत्र में हल्की बारिश हो सकती है। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया mp news पर क्लिक करें.