JABALPUR NEWS- मदन महल अब सप्लीमेंट्री रेलवे स्टेशन नहीं रह जाएगा, आधा ट्रैफिक मिलेगा

जबलपुर।
मदन महल रेलवे स्टेशन को कुछ समय पहले तक जबलपुर शहर का सप्लीमेंट्री रेलवे स्टेशन माना जाता था। जिन ट्रेनों को जबलपुर रेलवे स्टेशन पर स्टॉपेज नहीं मिलता था, उन्हें मदन महल भेज दिया जाता था लेकिन मार्च 2022 के बाद ऐसा नहीं होगा। मदन महल रेलवे स्टेशन की अपनी पहचान होगी। मदन महल रेलवे स्टेशन का डेवलपमेंट हो चुका है। यहां पर एक प्लेटफार्म की लंबाई इतनी बढ़ा दी गई है कि 24 बोगी वाली ट्रेन भी आराम से रुक सकती है। 

जल्द ही यहां चार प्लेटफार्म होंगे। वर्तमान में तीन प्लेटफार्म हैं। वहीं प्लेटफार्म दो की लंबाई 400 से बढ़ाकर 600 मीटर कर दी गई हैं। अब यहां पर 24 कोच की ट्रेनें भी आसानी से रूक सकेंगी। एक मार्च से मदनमहल रेलवे स्टेशन में यात्री ट्रेनों की संख्या बढ़ने वाली है। स्टेशन के टर्मिनल का काम लगभग 80 फीसदी पूरा हो गया है। पिछले तीन माह से बंद प्लेटफार्म दो को नए स्वरूप में शुरू कर दिया जाएगा।

मार्च के लास्ट तक प्लेटफार्म नंबर वन तैयार हो जाएगा

स्टेशन के प्लेटफार्म एक का काम अभी भी अधूरा है। इस प्लेटफार्म का अधिकांश हिस्सा मुख्य रेलवे स्टेशन की बिल्डिंग से होकर निकलेगा, इस वजह से यहां के कुछ हिस्से को तोड़ा जाना है। यह काम अभी तक नहीं हुआ है। वहीं मुख्य बिल्डिंग का स्वरूप भी बदला जा रहा है। निर्माण एजेंसी को यह काम मार्च अंत तक खत्म करने कहा है। अप्रैल तक इस प्लेटफार्म को शुरू भी कर दिया जाएगा, जिसके बाद यहां से ट्रेनों को शुरू करने की भी योजना है। जबलपुर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया JABALPUR NEWS पर क्लिक करें