GWALIOR NEWS- ताबड़तोड़ फायरिंग के बीच पुलिस मोस्ट वांटेड को गिरफ्तार कर लाई

ग्वालियर।
ग्वालियर पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी है। हरियाणा के पलवल इलाके के अंदरौला गाँव में एक पुलिस ऑपरेशन के दौरान मोस्ट वांटेड अपराधी खुर्शीद को गिरफ्तार कर लिया गया। इस दौरान अपराधी के 200 साथियों ने पुलिस को घेर लिया था। ताबड़तोड़ फायरिंग भी हुई लेकिन पुलिस ने मोर्चा नहीं छोड़ा। 

ग्वालियर पुलिस जब अपराधी को गिरफ्तार करने पहुंची तो पूरे गांव ने उन्हें घेर लिया। इसमें महिलाएँ और बच्चे भी शामिल थे। वह चिल्ला-चिल्ला कर कह रहे थे, ‘बाहर की पुलिस है, गाँव से बाहर नहीं निकलनी चाहिए, इन्हें घेर लो।’ इस दौरान लोगों ने पुलिस पर फायरिंग भी की, लेकिन ग्वालियर चंबल की पुलिस ने आरोपित को घर में घुसकर निकाला और घसीटकर अपनी गाड़ी में डाल लिया। 

पुलिस ने बताया कि खुर्शीद अपनी गैंग के साथ मिलकर ग्वालियर-चंबल ही नहीं देश भर के कई ATM काट कर करोड़ों रुपए की चोरी कर चुका है। जानकारी के मुताबिक यह गाँव अल्पसंख्यक बहुल है और पूरा गाँव ही एटीएम कटिंग के वारदात को देश भर में अंजाम देता है। खुर्शीद ने मुरैना, श्योपुर, असम, नोएडा, अलवर में वारदातें करना कबूला है।

ग्वालियर में शनिवार (19 फरवरी, 2022) की रात शहर के तीन ATM मशीन काट कर बदमाशों ने लगबग 44 लाख रुपए उड़ाए थे। ATM में फुटेज के आधार पर ग्वालियर क्राइम ब्रांच आरोपित की पहचान में जुटी थी। क्राइम ब्रांच को खबर मिली कि इसी महीने मुरैना और शिवपुरी में भी ATM में इसी तरह चोरी की वारदात हुई थीं। ग्वालियर की टीम मुरैना पहुँची तो वहाँ हुई वारदात और ग्वालियर की वारदात करने वाले का हुलिया एक ही निकला। ग्वालियर क्राइम ब्रांच और मुरैना पुलिस ने मिलकर ज्वाइंट ऑपरेशन चलाया। 

जाँच में पता चला कि ATM लूट की वारदात करने वाला बदमाश हरियाणा के पलवल जिले के अंदरौला गाँव का रहने वाला खुर्शीद है। खुर्शीद गैंग लीडर है, उसकी गिरफ्तारी पर 25 हजार रुपए का इनाम भी था।

आरोपित की तस्दीक होने के बाद ग्वालियर से क्राइम ब्रांच DSP विजय भदौरिया की अगुआई में आठ लोगों की टीम और मुरैना पुलिस की भी कि खुर्शीद ने अपनी गैंग के साथ मिलकर ग्वालियर-चंबल ही नहीं देश भर के ATM काटकर करोड़ों रुपए की चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। गैंग ने मुरैना, श्योपुर, असम, नोएडा, अलवर में वारदातें करना कबूला है। पुलिस को आशंका है कि इस गैंग को वारदात के दौरान स्थानीय स्तर पर भी लोगों की मदद मिलती रही है। फिलहाल वह मुरैना पुलिस की हिरासत में है। ग्वालियर के एसएपी ने बताया कि जल्द ही उसे रिमांड पर लेकर शहर में हुई वारदातों के बारे में पूछताछ की जाएगी। ग्वालियर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया GWALIOR NEWS पर क्लिक करें.

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !