कलेक्टर हो तो ऐसा, CORONA अनाथ बच्चों को KV में एडमिशन दिलाया- INDORE NEWS

इंदौर।
कलेक्टर क्रिएटिव हो तो कुछ भी कर सकता है। मनीष सिंह आईएएस ने CORONA के कारण अनाथ हुए बच्चों को केंद्रीय विद्यालय में एडमिशन दिलाने के लिए ना केवल केंद्र सरकार के पास प्रस्ताव भेजा बल्कि उसे मंजूर भी करवा दिया। सबको फ्री में एडमिशन मिलेगा। 

सभी बच्चों को यूनिफॉर्म और स्टेशनरी भी मिलेगी

मध्य प्रदेश के दर्जनों कलेक्टर शासन के निर्देशों का इंतजार करते रहते हैं परंतु कुछ ऐसे होते हैं जो सिस्टम को जनता के हित में बनाने की कोशिश करते हैं। सोमवार को केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 1 की मैनेजमेंट कमेटी की मीटिंग में कलेक्टर मनीष सिंह ने यह गुड न्यूज़ दी। बैठक में कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि इंदौर के केन्द्रीय विद्यालय क्रमांक-1 में कोरोना महामारी से अनाथ हुए बच्चों को प्राथमिकता से दाखिला दिलाने के लिए केन्द्र सरकार को गत वर्ष पत्र लिखा गया था। इस संबंध में केन्द्र सरकार ने सहानुभूतिपूर्वक तथा संवेदनशीलता के साथ निर्णय लेते हुए मंजूरी दी है। 

कलेक्टर कार्यालय से एडमिशन की लिस्ट जारी होगी

उन्होंने लिए गए निर्णय को सभी केन्द्रीय विद्यालयों में लागू करने के भी निर्देश दिए हैं।इसके फलस्वरूप अब इंदौर के केन्द्रीय विद्यालय क्रमांक-1 में 20 विद्यार्थियों का नि:शुल्क दाखिला होगा। कलेक्टर ने बताया कि जिन बच्चों का दाखिला होगा, उनके लिए जनसहयोग से स्कूल यूनिफॉर्म, कापी-किताबें आदि की भी व्यवस्था भी की जाएगी। ऐसे बच्चों के दाखिले के लिए कलेक्टर ने महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारी को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस संबंध में कलेक्टर की अनुशंसा के माध्यम से दाखिला कराया जाए। इंदौर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया indore news पर क्लिक करें.