BHOPAL कलेक्टर के रेवेन्यू इंस्पेक्टर गिरफ्तार, चाय की दुकान पर रिश्वत ले रहे थे

भोपाल।
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कलेक्टर के रेवेन्यू इंस्पेक्टर मिश्रीलाल अग्रवाल को लोकायुक्त पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया है। लोकायुक्त पुलिस का दावा है कि उन्होंने राजस्व निरीक्षक को चाय की दुकान पर रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। 

लोकायुक्त पुलिस की टीम को लीड कर रही इंस्पेक्टर मयूरी गौर ने बताया कि पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त के पास बोईपुर भोपाल के रहने वाले संदीप बाथम, पिता का नाम श्री गणेश बाथम द्वारा शिकायत की गई थी कि भवन निर्माण के लिए NOC- अनापत्ति प्रमाण पत्र देने के बदले भोपाल कलेक्टर कार्यालय के राजस्व निरीक्षक श्री मिश्रीलाल अग्रवाल द्वारा ₹10000 की रिश्वत की मांग की जा रही है। रिश्वत नहीं देने पर, NOC रोक लेने की धमकी दी गई है। 

प्रोटोकॉल के तहत लोकायुक्त पुलिस ने प्राप्त हुई शिकायत की प्राइमरी इन्वेस्टिगेशन कराई, जिसमें शिकायत सही पाई गई। इसके बाद एक योजना बनाकर शिकायतकर्ता संदीप बाथम को ₹10000 रिश्वत देने के लिए भेजा गया। लोकायुक्त पुलिस की तरफ से इंस्पेक्टर मयूरी गौर, नीलम पटवा, विकास पटेल एवं अन्य मौके पर मौजूद रहे। एसडीएम भोपाल सिटी ऑफिस के बाहर एक चाय की दुकान पर राजस्व निरीक्षक श्री मिश्रीलाल अग्रवाल रिश्वत लेने के लिए आए। 

जैसे ही शिकायतकर्ता संदीप बाथम ने रेवेन्यू इंस्पेक्टर मिश्रीलाल अग्रवाल को रिश्वत के लिए निर्धारित ₹10000 की रकम हाथ में दी, ठीक उसी समय लोकायुक्त पुलिस की टीम ने छापामार कार्रवाई कर दी। मिश्रीलाल अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया गया है। बताया जा रहा है कि लोकायुक्त पुलिस बुधवार को मिश्री लाल अग्रवाल के घर आय से अधिक संपत्ति के मामले की जांच करेगी। भोपाल की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया bhopal news पर क्लिक करें।