कमलनाथ सर, आपने बेरोजगारों से जो वादा किया था उसे निभाने कदम उठाओ- Khula Khat

प्रति, कमलनाथ, अध्यक्ष महोदय, मध्य प्रदेश काँग्रेस, भोपाल। महोदय, वर्तमान संदर्भ में जैसा आप भी जानते है कि मध्य प्रदेश के बेरोजगार अभ्यर्थियों द्वारा MPPSC परीक्षा मे आवेदन करने हेतु आयु सीमा मे 02 वर्ष की वृद्धि की मांग कि जा रही है। महोदय, पिछले 2 वर्षों से हम अभ्यर्थियों का रोजगार खतम हो गया है। हम में से कई अभ्यर्थी प्राइवेट शिक्षक और कई अभ्यर्थी अपना छोटा व्यवसाय करते थे। जो कि पिछले 02 वर्षों में सरकार के द्वारा नियमित रूप से लॉकडाउन लगाने से सड़क पर आ गए। महोदय अब हम अपनी वर्तमान दुर्दशा कवि दुष्यंत कुमार जी के पंक्तियों के माध्यम से व्यकत कर रहे है -  “इस सड़क पर इस कदर कीचड़ बिछी है, हर किसी का पाँव घुटनों तक सना है”

महोदय हम सभी शिक्षित अभ्यर्थी है। वर्तमान आयु सीमा मे हम केवल अपना बचा हुआ जीवन सरकारी नौकरी मे सिलेक्ट होकर कर सकते है तथा अपने राज्य और समाज कि सेवा कर सकते है। महोदय, वर्तमान मे सरकार ने MPPSC की परीक्षा मे फ़ॉर्म भरने कि आयुसीमा 40 वर्ष निर्धारित की हुई है। जिसकी वजह से हम कई अभ्यर्थी आवेदन नहीं कर पा रहे है।  

महोदय हमारे द्वारा पिछले 02 माह मे कई माध्यमों द्वारा वर्तमान सरकार से विनती कि गई मगर वर्तमान सरकार हमारे मुद्दे पर कोई निर्णय नहीं कर रही है, जिसकी वजह से हमारे सभी साथियों का भविष्य अंधकार मे है।

महोदय हम सभी बेरोजगार अभ्यर्थी आपको याद दिलाना चाहते है कि काँग्रेस पार्टी द्वारा विधानसभा चुनाव 2018 मे प्रदेश के समस्त अभ्यर्थियों से वादा किया गया था कि मध्य प्रदेश मे काँग्रेस कि सरकार बनने पर MPPSC और PEB कि भर्ती परीक्षों मे आयु सीमा मे 2 वर्ष कि वृद्धि करते हुए 40 से बढ़ाकर 42 वर्ष कि जाएगी। आपकी इस घोषणा से उत्साहित होकर युवाओं ने बड़ी संख्या मे आपके पक्ष मे मतदान किया था परंतु महोदय, मध्य प्रदेश मे काँग्रेस कि सरकार Nov- 2018 से March- 2020 बनी रहने पर भी MPPSC और PEB कि भर्ती परीक्षों मे आयु सीमा मे 2 वर्ष कि वृद्धि नहीं कि गई।

महोदय आपकी काँग्रेस सरकार ने यदि उस समय ही अपना वादा निभाते हुए आयु सीमा मे 2 वर्ष कि वद्धी करते हुए 40 से बढ़ाकर 42 वर्ष कर दी होती, तो आज हम बेरोजगार अभ्यर्थियों को वर्तमान भाजपा सरकार के सामने हाथ नहीं फैलाने पड़ते। महोदय, आप से हम बेरोजगार अभ्यर्थियों के द्वारा निवेदन है कि आप येन-केन- प्रकारेण वर्तमान BJP सरकार से हमें MPPSC परीक्षा मे आयु सीमा मे 2 वर्ष कि छूट दिलाएं। इसके लिए काँग्रेस पार्टी को आंदोलन भी करना पड़े तो हम बेरोजगार अभ्यर्थियों के प्रति संवेदना रखते हुए करें। 

महोदय, यदि काँग्रेस पार्टी के द्वारा हम बेरोजगार अभ्यर्थियों का समर्थन किया जाता है और वर्तमान मध्य प्रदेश सरकार से कि परीक्षा मे आयु सीमा मे 2 वर्ष कि छूट दिलाई जाती है तो हम सभी आपके ताउम्र आभारी रहेंगे और जीवन भर आपकी पार्टी को वोट देंगे और आपके द्वार उठाए सभी मुद्दों पर समर्थन करेंगे। 
अंत में महोदय हम सभी बेरोजगार अभ्यर्थी चंद पंक्तियों लिखते हुए अपने पत्र को समाप्त करते हैं:- 
"मेरे दिल पर हाथ रखो, मेरी बेबसी को समझो,  में इधर से बन रहा हूँ, में इधर से ढह रहा हूँ”
भवदीय, समस्त पीड़ित अभ्यर्थी

इससे पूर्व प्रकाशित हुए खुले खत पढ़ने के लिए कृपया Khula Khat पर क्लिक करें. खुला खत एक ओपन प्लेटफार्म है। यहां मध्य प्रदेश के सभी जागरूक नागरिक सरकारी नीतियों की समीक्षा करते हैं। सुझाव देते हैं एवं समस्याओं की जानकारी देते हैं। यदि आपके पास भी है कुछ ऐसा जो मध्य प्रदेश के हित में हो, तो कृपया लिख भेजिए हमारा ई-पता है:- editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here