ठंड के मौसम में कान के इन्फेक्शन का घरेलू इलाज- home remedies for ear infection

सर्दी के मौसम में कान में इन्फेक्शन की शिकायत आम बातें हो गई हैं। कई लोग तो हर साल कान के इंफेक्शन का शिकार होते हैं। यह मात्र एक रात में काफी दर्दनाक समस्या बन जाते हैं। इसलिए बहुत जरूरी है कि शीतकाल के दौरान कान के इन्फेक्शन को जितना जल्दी हो सके पहचान लिया जाए और उसका घरेलू उपचार कर लिया जाए।

Home remedies for ear infection in adults 

लैवंडर ऑयल से रूई को भिगोकर कान में लगा लें। याद रखें ज्यादा तेल नहीं होना चाहिए। रुई से कान बंद हो जाना चाहिए लेकिन तेल कान के अंदर नहीं जाना चाहिए। तब तक लगाए रखें जब तक दर्द खत्म ना हो जाए। बाहरी इंफेक्शन से तुरंत राहत का सबसे अच्छा तरीका है। 

वयस्क नागरिकों के लिए कान के इन्फेक्शन का घरेलू इलाज

नारियल का तेल एंटीमाइक्रोबियल (बैक्टीरिया से लड़ने वाला तत्व) होता है। इसके कारण कीटाणु नष्ट हो जाते हैं। बिस्तर पर लेट जाएं। जिस कान में इंफेक्शन है, उसे ऊपर की तरफ रखें। प्योर नेचुरल कोकोनट ऑयल की 3 बूंदें कान के अंदर डालें। रुई से कान को बंद कर दें। जब दर्द में आराम मिल जाए तोरी को निकाल दें। सुबह बिस्तर पहले छोड़ने से पहले और रात में सोने से पहले 2-3 इस्तेमाल करने पर इंफेक्शन खत्म हो जाएगा। 

ठंडी हवा से कान में दर्द हो रहा है तो क्या करें

यदि ठंडी हवाओं के कारण कान में दर्द हो रहा है तो गर्म पानी में कपड़ा भिगोकर उसे अच्छी तरह से निचोड़ लें। फिर उस कपड़े को कान के ऊपर रख दें। थोड़ी देर तक रखा रहने दें। यह प्रक्रिया आराम मिलने तक दोहराएं। 

home remedies for ear infection in babies

गर्म पानी में छोटे तौलिए को निचोड़ कर बच्चे के गर्दन और कान के आसपास सिकाई कर सकते हैं। 
तुलसी के पत्ते का रस सबसे अच्छा और सबसे ज्यादा उपयोग किए जाने वाला तरीका है। अधिकतम तीन बूंद तुलसी पत्ते का रस बच्चे को आराम दे देता है। 
यदि नवजात शिशु है और मां के दूध का सेवन करता है तो कान में दर्द होने पर माता के दूध की कुछ बूंदें कान के अंदर डाल देंगे। आराम मिल जाएगा।  स्वास्थ्य से संबंधित समाचार एवं जानकारियों के लिए कृपया Health Update पर क्लिक करें