मुख्यमंत्री द्वारा सम्मानित कर्मचारी के खिलाफ फर्जी आयुष्मान कार्ड की FIR - GWALIOR NEWS

ग्वालियर
। मध्य प्रदेश के ग्वालियर में स्थित जयारोग्य चिकित्सालय में कार्यरत कर्मचारी रामनिवास मांझी के खिलाफ फर्जी आयुष्मान कार्ड बनाने का मामला दर्ज किया गया है। रामनिवास वही कर्मचारी है जिसे मुख्यमंत्री ने सबसे ज्यादा आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए सम्मानित किया था। 

पड़ाव थाना पुलिस ने शक्ति नगर नदीपार टाल निवासी रामनिवास मांझी के खिलाफ धारा 418, 454 ,465,467,471 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। यह मामला भोपाल की टीम द्वारा की गई जांच के बाद सीएमएचओ डॉ शिवराम सिंह द्वारा दर्ज कराई गई है। जांच में पाया गया कि ग्वालियर में फर्जी आयुष्मान कार्ड के आधार पर 6 लोगों ने योजना का लाभ ले लिया और सरकार को 10 लाख रुपए का नुकसान हुआ। 

जांच की गई तो पता चला कि रामनिवास मांझी नाम के कर्मचारी द्वारा फर्जी आयुष्मान कार्ड बनाए गए थे। पुलिस का अनुमान है कि इन्वेस्टिगेशन के दौरान और भी कई खुलासे हो सकते हैं। सनद रहे कि ग्वालियर के अखबारों में बड़े पैमाने पर फर्जी आयुष्मान कार्ड बनाए जाने की खबरें कई बार प्रकाशित हो चुकी हैं। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया mp news पर क्लिक करें