समूह बीमा कटौती राशि सातवें वेतनमान के अनुरूप हो: कर्मचारी संघ - MP Employee news

जबलपुर।
madhya Pradesh तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के शिक्षक-अध्यापक प्रकोष्ठ के प्रांताध्यक्ष मुकेश सिंह ने जारी विज्ञप्ति में बताया की पिछले 17 वर्षों से राज्य कर्मचारियों/अधिकारियों की समूह बीमा योजना अंतर्गत वेतन से जो राशि काटी जा रही है वो इस प्रकार है चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी का 100 तृतीय श्रेणी कर्मचारियों का 200 द्वितीय श्रेणी अधिकारी 400 एवं प्रथम श्रेणी अधिकारियों का 600, जबकि पिछले 16 वर्षों में कर्मचारियों को मिलने वाला वेतन लभगम तीन गुना हो गया है किन्तु बीमा राशि में कोई परिवर्तन नहीं किया गया है। 

राज्य कर्मचारियो/अध्यापक संवर्ग को 2016 से सातवां वेतनमान दिया जा रहा है किन्तु समूह बीमा राशि पांचवें वेतनमान से काटी जा रही है। ऐसी स्थिति में यदि सेवा के दौरान कर्मचारी की मृत्यु हो जाती है तो उसके आश्रित परिवार को मात्र 2.5 लाख बीमा राशि ही मिल पाती है जो मंहगाई को देखते हुए बहुत कम है। 

संघ के मुकेश सिंह, मनीष चौबे, श्यामनारायण तिवारी, नितिन अग्रवाल, गगन चौबे, प्रणव साहू, मनीष लोहिया, मनोज सेन, मनीष शुक्ला, धीरेन्द्र सोनी, मो.तारिख, संतोष तिवारी, सुदेश पाण्डे नितिन शर्मा, विनय नामदेव, आदित्य दीक्षित, विजय कोष्टी, सतीश पटैल, सोनल दुबे, राजकुमार सिंह, देवदत्त शुक्ला, अभिषेक मिश्रा, ब्रजेश गोस्वामी, पवन ताम्रकार, मनोज पाटकर, अनुराग मिश्रा आदि ने मुख्य सचिव म.प्र.शासन को ई-मेल के माध्यम से पत्र प्रेषित कर मांग की है कि तृतीय श्रेणी कर्मचारियों की समूह बीमा योजना अंतर्गत काटी जानी वाली राशि सातवें वेतनमान के अनुरूप रू 1000 प्रतिमाह की जावे। मध्यप्रदेश कर्मचारियों की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP Employee news पर क्लिक करें


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here