CM RISE SCHOOL में सिलेक्शन नहीं हुआ तो शिक्षकों का क्या होगा, पढ़िए - MP karmchari news

जबलपुर
। मध्य प्रदेश में CM RISE SCHOOL के नाम पर कोई नई बिल्डिंग नहीं बन रही बल्कि पुराने स्कूलों को अपग्रेड किया जा रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने डिसीजन लिया है कि सीएम राइज स्कूलों में टीचर्स का अपॉइंटमेंट, सिलेक्शन एग्जाम से होगा। सवाल यह है कि जो शिक्षक पहले से स्कूल में पढ़ा रहे हैं, उनका क्या होगा।

जिन स्कूल भवनों का चुनाव सीएम राइज स्कूलों के लिए किया गया है। उसके वर्तमान स्टाफ को नए स्कूल में मर्ज नहीं किया जाएगा। शिक्षकों को चयन परीक्षा में शामिल होने का मौका दिया जा रहा है। यदि वह परीक्षा में पास हो जाते हैं तो ठीक। यदि वह चयन परीक्षा में फेल हो जाते हैं तब उन्हें किसी दूसरे स्कूल में ट्रांसफर किया जाएगा। इन स्कूलों में पढ़ा रहे अतिथि शिक्षकों की सेवाएं समाप्त हो जाएंगी। 

लोक शिक्षण संचालनालय से इस संबंध में स्पष्ट आदेश जारी कर दिए गए हैं। मध्य प्रदेश शिक्षा विभाग की तरफ से 21 नवंबर को चयन परीक्षा का आयोजन किया गया है। जबलपुर में शासकीय एमएलबी स्कूल और उत्कृष्ठ विद्यालय को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। विभाग ने अभी से इस शर्त के संबंध में हर शिक्षक से अभिस्वीकृति मांगी है। विभाग ने जिन शिक्षकों को चयन परीक्षा में शामिल होना है उनके लिए विर्मश पोर्टल पर 11 नवंबर तक आनलाइन आवेदन का विकल्प दिया है। 

क्या नवनियुक्त शिक्षक सीएम राइज स्कूलों में अपॉइंटमेंट के लिए अप्लाई कर सकते हैं

लोक शिक्षण संचालनालय मध्य प्रदेश द्वारा जारी आदेश के अनुसार 2021 में नियुक्त किए गए नियमित शिक्षक सीएम राइज स्कूलों की चयन परीक्षा में शामिल नहीं हो सकते। जबलपुर शहर में फिलहाल 11 स्कूलों का चयन सीएम राइज स्कूलों के लिए किया गया है। इन सारे स्कूलों का स्टाफ किसी दूसरे स्कूल में ट्रांसफर किया जाएगा। मध्य प्रदेश में कर्मचारियों से संबंधित महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP karmchari news पर क्लिक करें


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here