JABALPUR NEWS- महिला आरक्षक की मौत, डेंगू से पीड़ित थी, कोरोना भी बढ़ रहा है

जबलपुर
। अस्पतालों में जगह नहीं है और मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। नगर निगम और स्वास्थ्य विभाग डेंगू फैलाने वाले मच्छरों को मारने में असफल साबित हो रहे हैं नतीजा मच्छर ताकतवर होता जा रहा है और मरीजों की मौत का सिलसिला बढ़ने लगा है। डेंगू बुखार से पीड़ित महिला आरक्षक उषा तिवारी की मौत हो गई। उनके दोनों बच्चे भी डेंगू बुखार से पीड़ित है। 

RI सौरव तिवारी के मुताबिक, पति के निधन के बाद ऊषा तिवारी को पुलिस विभाग में अनुकंपा नियुक्ति मिली थी। निकट के लोगों ने बताया कि पहले उनका बेटा लकी तिवारी बीमार हुआ। उसकी रिपोर्ट डेंगू पॉजिटिव आई। उसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अब वह ठीक हो चुका है। इसके बाद ऊषा तिवारी खुद और बेटी स्नेहल तिवारी डेंगू की चपेट में आ गईं। दोनों अस्पताल में भर्ती थीं। ऊषा तिवारी की रविवार को मौत हो गई। वहीं, बेटी की हालत अब ठीक बताई जा रही है।

180 पुलिस कर्मचारी डेंगू बुखार से पीड़ित

डेंगू की चपेट में आए एक कॉन्स्टेबल को परिजन कई अस्पतालों के चक्कर लगा डाले। विक्टोरिया पहुंचे तो वहां फर्श पर मरीजों को देखकर उनके परिजनों की हिम्मत जवाब दे गई। इसके बाद वे एक बड़े प्राइवेट अस्पताल गए। वहां भी बेड नहीं मिला। फिर इस शर्त पर भर्ती किए गए कि जब तक बेड खाली नहीं होता, उन्हें ICU में रहना होगा। रांझी थाने सहित रांझी पुलिस आवास, छठवीं बटालियन में 100 से अधिक लोग डेंगू की चपेट में आ चुके हैं। जबलपुर पुलिस के 80 के लगभग जवान डेंगू से पीड़ित हो चुके हैं।

नगर निगम की जानलेवा लापरवाही- रांझी बना रेड जोन, अस्पतालों में बेड नहीं

रांझी जल भराव वाल क्षेत्र है। फैक्ट्री होने की वजह से खाली जमीन और वहां जल भराव के चलते मच्छर तेजी से पनप रहे हैं। नगर निगम के स्तर से फाॅगिंग और मच्छर विनिष्टीकरण के लिए दवाओं का छिड़काव नहीं कराया गया। महीने भर पहले रांझी से शुरू हुआ डेंगू अब पूरे शहर में पांव पसार चुका है। 

यही नहीं, अब चिकुनगुनिया भी फैलने लगा है। हेल्थ विभाग अब तक 2 लाख घरों से लार्वा का सर्वे कर चुका है। इसमें 2705 घरों में डेंगू के लार्वा मिल चुके हैं। वहीं, 399 में डेंगू पॉजिटिव होने की पुष्टि एलायजा टेस्ट से हो चुकी है, जबकि वास्तविक संख्या 5 हजार से अधिक पहुंच चुकी है। अस्पतालों में बेड नहीं मिल पा रहा।

12 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MPPEB NEWS- सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारी की चयन सूची जारी, यहां पढ़िए
JABALPUR DEO ने महिला शिक्षक का डिपार्टमेंट के बाहर ट्रांसफर कर दिया
ना सिम चाहिए, ना रिचार्ज, Gmail से फोन कीजिए, टोटल फ्री
MP NEWS- मध्य प्रदेश का एक गांव विश्व के सर्वश्रेष्ठ पर्यटन गांव की लिस्ट में शामिल
कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर क्या न खाएं, कैसे कम करें, घरेलू उपचार - CHOLESTEROL HOME REMEDY
MP CORONA NEWS- जबलपुर से शुरू होगी तीसरी लहर, 57 में से 29 संक्रमित जबलपुर में
GWALIOR NEWS- कलेक्टर की कार्रवाई से अपर आयुक्त तिलमिलाए, रिलीविंग मांगी
MP NEWS- मुख्यमंत्री ने खरगोन के एसपी को हटाया, लोगों ने थाने पर हमला कर दिया था
MP COLLEGE ADMISSION- यूजी में 1.15 लाख स्टूडेंट्स को सीट अलॉट
मध्यप्रदेश में चयनित शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया सोमवार से: स्कूल शिक्षामंत्री ने कहा
मध्य प्रदेश मानसून- 15 जिलों में मूसलाधार बारिश की चेतावनी, कई इलाकों में वज्रपात का खतरा

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiसोने के सिक्के को मोहर, तो चांदी और तांबे के सिक्के को क्या कहा जाता है
GK in Hindiमछली पानी में रहती है, फिर उसमें से बदबू क्यों आती है
GK in Hindiभारत की एक ऐसी जगह जहां आज भी ब्रिटिश सरकार का राज है
GK in Hindiबिजली के तार को कैसे पता होता है, पंखे को 60 वाट और एसी को 1160 वाट बिजली देना है
GK in Hindiउल्लू घोंसला क्यों नहीं बनाते, खंडहर में क्यों रहता है
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here