MP NEWS- भगवान भरोसे रहेगी बिजली सप्लाई, शिकायतों पर सुनवाई नहीं होगी

भोपाल।
दिनांक 10 अगस्त 2021 को मध्यप्रदेश में बिजली की सप्लाई भगवान भरोसे रहेगी। यदि किसी उपभोक्ता को कोई समस्या आती है तो उसकी शिकायत पर कोई सुनवाई नहीं होगी क्योंकि बिजली कंपनी के 15000 कर्मचारी हड़ताल पर रहेंगे।

नेशनल कोआर्डिनेशन कमेटी ऑफ इलेक्ट्रिसिटी एम्प्लाइज एंड इंजीनियर्स के आह्वान पर यूनाइटेड फोरम के तत्वावधान में एमपी के सभी बिजली अधिकारी और कर्मचारी हड़ताल पर रहेंगे। बिल के विरोध और अपनी 15 सूत्रीय मांगों के समर्थन में 2 से 5 अगस्त तक विधुत कर्मी यूनाइटेड फोरम फॉर पावर एम्प्लॉयीज एंड इंजीनियर्स के द्वारा चलाए जा रहे जागरुकता अभियान के तहत काली पट्टी लगा कर विरोध दर्ज करा चुके हैं।

बिजली कर्मी मंगलवार को एक दिवसीय हड़ताल पर रहेंगे

अभियंता संघ के वीकेएस परिहार के मुताबिक अपनी मांगों की उपेक्षा से बिजली कर्मियों में आक्रोश गहराता जा रहा है। इसी के चलते बिजली अधिकारी व कर्मचारियों ने 10 अगस्त को एक दिवसीय, 24 अगस्त से 26 अगस्त तक तीन दिवसीय और 6 सितंबर से अनिश्चित कालीन कार्य बहिष्कार का निर्णय लिया है।

बिजली कर्मियों की ये है मांग-

केंद्र सरकार वितरण कंपनियों के निजीकरण के लिए प्रस्तावित विद्युत सुधार अधिनियम-21 लागू न करे।
सभी वर्गों के संविदा विद्युत कर्मियों को आंध्र और बिहार की तरह नियमिय किया जाए।
ठेका कर्मियों की सेवा सुरक्षित रखते हुए तेलंगाना/दिल्ली व हिमाचल प्रदेश की तरह भर्ती की जाए।
विद्युत कंपनी के सभी अधिकारी कर्मचारीयो को फ्रंट लाइन कर्मचारियों की श्रेणी में रखकर मुख्यमंत्री कोविड-19 का लाभ दिया जाए।
रिटायर होने के बाद लंबित ग्रेच्युटी, जीपीएफ, अवकाश नकदीकरण,पेंशन आदि वर्षों से लंबित देय भुगतान तत्काल किया जाए।
विद्युत कंपनियों में वरिष्ठता और उच्चवेतनमान के आधार पर सभी वर्गों में रिक्त उच्च पदों के चालू प्रभार प्रदान किए जाएं और रिक्त पदों को भरा जाए।
मध्य प्रदेश शासन के नियमानुसार सभी प्रकार के मृत्यु प्रकरणों में विद्युत अधिकारी-कर्मचारयों के आश्रितों को अनुकंपा नियुक्ति दी जाए।
राष्ट्रीय पेंशन योजना में शासकीय अंशदान वेतन और मंहगाई भत्ते का 14 प्रतिशत किया जाए।
नियामक आयोग के निर्देशानुसार 750 करोड़ रुपये की राशि पेंशन ट्रस्ट में जमा कर उत्तर प्रदेश शासन की तरह राज्य शासन पेंशन गारंटी लेकर पेंशन का भुगतान ट्रेजरी से कराए।
सातवे वेतनमान की विसंगतियों का निराकरण किया। इसमें वर्ष 2006 के पूर्व एवं बाद में नियुक्त अभियंताओं में वर्गीकरण किया गया है।
ट्रांसमिशन कंपनी में नियुक्त आईटीआई की योग्यता रखने वाले परीक्षण सहायक को तृतीय श्रेणी में रखकर 2500 रुपये का ग्रेड-पे निर्धारित किया जाए।
वर्ष 2018 के बाद नियुक्त अधिकारी कर्मचारियो के लिए पुरानी वेतन व्यवस्था लागू की जाए।
अनुभाग अधिकारी के ग्रेड पे को राज्य शासन के वित्त विभाग के आदेशा अनुसार 4400/ में संशोधित ग्रेड पे 4200/-से 4800/-के समान वृद्धि की जाए।
ई. वेतनमान से संबंधित सभी वर्गों की विसंगतितियो का निराकरण किया जाए।
विद्युत मंडल की सभी उत्तरवर्ती कंपनियों में मानव संसाधन से संबंधित नियमो में एक रूपता प्रदान की जाए।
कंपनी कैडर में कार्यरत सभी नियमित और संविदा कर्मचारियों को गृह जिले में पदस्थ करने की नीति लागू की जाए।
कंपनी कैडर के सभी नियमित और संविदा कर्मचारी-अधिकारियों को 50 प्रतिशत और सेवानिवृत कर्मचारी-अधिकारियों को बिजली बिल में 25 प्रतिशत छूट दी जाए।
केंद्र के द्वारा घोषित महंगाई भत्ते और 2 वर्षों से रोकी गई वेतन वृद्धि लागू कर बकाया राशि का भुगतान किया जाए।
सभी कंपनियों में संगठनात्मक संरचना पुनर्गठित कर ख़ली पदों को तत्काल भरा जाए।

09 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MP NEWS- सिंध में बाढ़ के बाद चांदी के सिक्के मिल रहे हैं, सन् 1860 और INDIA लिखा है
EMPLOYEE NEWS- अनुकंपा नियुक्ति में पहले दिन से नियमित वेतनमान दिया जाए: हाई कोर्ट का फैसला
JABALPUR NEWS- SIHORA to JABALPUR जा रहे ट्रैक्टर एजेंसी संचालक की एक्सीडेंट में मौत
MPPSC NEWS- RESULT आने से पहले ही स्टूडेंट ने सुसाइड कर लिया
MP COLLEGE EXAM NEWS- 18 लाख स्टूडेंट्स के लिए फिर से परीक्षा होगी
मध्य प्रदेश मानसून- 16 जिलों में बादलों का इंतजार, 10 जिले सूखे की कगार पर
IAS राकेश श्रीवास्तव को श्योपुर कलेक्टर पद से हटाया, शिवम वर्मा को भेजा 
MP NEWS- श्योपुर कलेक्टर के 1 घंटे बाद एसपी को भी बदला
MP NEWS- श्योपुर- और अंत में मिनी अग्रवाल भी आउट, बीडी कतरोलिया पदस्थ
MP CORONA NEWS- सावधान! ताकतवर होता जा रहा है वायरस, R वैल्यू 1.31 हो गई
BHOPAL NEWS- इंजीनियर छात्र ने एसआई में चाकू मारा, चालान भरने के बाद हमला किया

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiदुबई के सभी शेख अमीर क्यों होते हैं, कोई कंगाल क्यों नहीं होता
GK in Hindiकुत्ते कार का पीछा क्यों करते हैं, क्या वह कार चोरी की होती है, पढ़िए 4 कारण
GK in Hindiशराब में आग क्यों लगती है, पानी में क्यों नहीं लगती, सरल हिंदी में समझिए 
GK in Hindiअंधेरा होने पर भी मच्छरों को हमारी लोकेशन कैसे मिल जाती है 
GK in Hindi- वह कौन सी संख्या है जिसे रोमन में नहीं लिखा जा सकता
GK in Hindiरानियों के रेशमी वस्त्र किससे धुलते थे, वाशिंग पाउडर तो था नहीं
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here