सैनिक मुख्यालय JABALPUR में हैं तो सैनिक स्कूल क्यों नहीं है: कर्मचारी संघ - MP NEWS

जबलपुर
। म.प्र. तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ द्वारा जारी विज्ञप्ति में बताया कि संस्कारधानी जबलुपर में 6 आडिनेश फैक्ट्री, अनेकों सैनिक मुख्यालय व अनेकों केन्द्रीय विभाग होने के फलस्वरूप प्रदेश में सबसे अधिक केन्द्रीय कर्मचारी कार्यरत व निवासरत् हैं। जिन्हें अपने बच्चों की शिक्षा सैनिक स्कूल में कराने हेतु प्रदेश के एक मात्र सैनिक स्कूल रीवा पर आश्रित रहना पडता है। संस्कारधानी जबलपुर में सैनिक स्कूल न होना सस्कारधानी की उपेक्षा प्रतीत हो रही है। 

संस्कारधानी जबलपुर में लाखों केन्द्रीय कर्मचारी होने के फलस्वरूप आयकार भुगतान में प्रदेश में संस्कारधानी अव्वल रहती है, इसके बाद भी सरकार द्वारा जबलपुर की सैनिक स्कूल की स्थापना न किया जाना समझ से परे है । जबलपुर में सैनिक स्कूल न होने केन्द्रीय कर्मचारियों के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है जिसके कारण वे अपने को ठगा महसूस कर रहे हैं । जबलपुर में सैनिक स्कूल की स्थापना किये जाने से केन्द्रीय कर्मचारियों के साथ-साथ संभाग के अन्य जिलों के बच्चों का भी इसका लाभ प्राप्त होगा व जबलपुर के लिए एक बड़ी उपलब्धी होगी।
संघ के योगेन्द्र दुबे, अरवेन्द्र राजपूत, अवधेश तिवारी, नरेन्द्र दुबे, अटल उपाध्याय, मुकेश सिंह, आलोक अग्निहोत्री, मुन्ना लाल पटेल, दुर्गेश पाण्डेय, सुरेन्द्र जैन, शकील अंसारी, प्रकाश सेन, राकेश सेंगर, प्रकाश जैन, मुन्नालाल पटेल, गोविन्द बिल्थरे, चन्दु जाउलकर, विवके तिवारी, नितिन अग्रवाल, श्याम नारायण तिवारी, प्रणव साहू, मनोज सेन, राकेश दुबे, गणेश उपाध्याय, मो. तारिक, धीरेन्द्र सोनी, महेश कोरी नितिन शर्मा, विनय नामदेव, संतोष तिवारी आदि ने माननीय मुख्यमंत्री जी से मांग की है कि संस्कारधानी जबलपुर में सैनिक स्कूल की स्थापना की जाये जिससे जिले के साथ-साथ संभाग के अन्य जिलों के बच्चों को भी उसका लाभ प्राप्त हो सके । संघ माननीय सांसद, जिले के विधायक व जनप्रतिनिधियों का ध्यान इस ओर आकृष्ट कराने हेतु शीघ्र ही ज्ञापन सौंपेगा।

18 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

INDORE NEWS- ज्योतिरादित्य सिंधिया का स्वागत करने गए कैलाश विजयवर्गीय धक्का-मुक्की का शिकार
MP NEWS- चयनित शिक्षकों के लिए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष का आश्वासन
MP NEWS- मध्यप्रदेश में बिरसा मुंडा जयंती अवकाश की श्रेणी बदली 
MP NEWS- CM शिवराज सिंह ने आज भी पौधा लगाया, डॉक्टरों ने बेड रेस्ट के लिए कहा है
BHOPAL NEWS- संक्रमण बढ़ता जा रहा है, 5 दिन में 18 लोग शिकार
मध्य प्रदेश मानसून- 15 जिलों को हिमालय से लौटते बादलों का इंतजार, पढ़िए बारिश कब होगी
MP Sports Talent Search 2021- ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म एवं पूरी जानकारी
BJP MLA संजय पाठक ने बताया: मैंने 3-4 महीने चेक किया है, वैक्सीन से नपुंसक नहीं होते
GWALIOR NEWS- विवाहिता को फ्लर्ट करना भारी पड़ गया, सिरफिरा शादी के लिए पीछे पड़ गया
 

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiविरोधाभास के लिए 36 का आंकड़ा क्यों कहते हैं, 96 क्यों नहीं कहते
GK in Hindiइमरजेंसी में कार लॉक हो जाए तो जान बचाने के लिए क्या करें
GK in Hindi- चंद्रमा को मामा क्यों कहते हैं, पढ़िए वैज्ञानिक कारण
GK in Hindiकार का साइलेंसर पीछे, ट्रक का साइड में और ट्रैक्टर का सामने क्यों होता है
GK in Hindiअंग्रेजी के अक्षरों में i और j के ऊपर बिंदी क्यों लगाई जाती है
GK in Hindiमाचिस की तीली किस लकड़ी से बनती है, माचिस का आविष्कार किसने और कब किया 
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here