हे भगवान, ओपन बुक एग्जाम में भी विक्रम-बेताल की कहानी लिख दी, MBA वाले एक कदम आगे निकले - BU BHOPAL NEWS

भोपाल।
दुनिया में कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिन्हें 80 फीट चौड़ी सड़क अकेले चलने के लिए दी जाए तब भी नाली में गिर जाते हैं। ऐसे ही कुछ विद्यार्थी बरकतउल्ला यूनिवर्सिटी में भी है। बीकॉम फाइनल ईयर के ओपन बुक पेटर्न एग्जाम में इन स्टूडेंट्स ने विक्रम बेताल की कहानी और शाहरुख खान वाली फिल्म डॉन की स्टोरी लिखी है। बताइए, ऐसे तीस मार खां विद्यार्थियों को कौन माई का लाल पास कर सकता है। 

MBA वालों ने तो कमाल कर डाला 

कॉमर्स के स्टूडेंट्स ने फिल्मों की स्टोरी और विक्रम बेताल की कहानी लिखी तो एमबीए के स्टूडेंट्स ने अपनी एक्स्ट्रा स्मार्टनेस का प्रमाण जमा करा दिया। उन्होंने आंसर शीट पर किताब के पेज की फोटो कॉपी चिपका कर यूनिवर्सिटी में जमा करा दी।  दरअसल, बीयू ने बीकॉम अंतिम वर्ष के नियमित और प्राइवेट विद्यार्थियों के रिजल्ट जारी किए हैं। इस परीक्षा में 15000 नियमित और 1600 स्वाध्यायी परीक्षार्थी शामिल हुए। इस परीक्षा का रिजल्ट नियमित परीक्षार्थियों का 99.85 और स्वाध्यायी का 99.18 फीसद रहा। शेष परीक्षार्थी उचित जवाब न लिखने के कारण फेल कर दिए गए हैं।

आप ही बताइए कैसे पास करते हैं

प्रोफेसरों ने मूल्यांकन के दौरान परीक्षार्थियों द्वारा किए गए कारनामों से बीयू अधिकारियों को सूचित किया है। तब अधिकारियों ने कहा कि विद्यार्थियों ने जो किया है, उन्हें उसके तहत ही अंक आवंटित किए जाएं। प्रोफेसरों ने उन्हें जीरो अंक आवंटित किये हैं। 

अधिकारी 100% रिजल्ट चाहते थे

अधिकारियों का कहना है कि ओपन बुक एग्जाम में रिजल्ट शत प्रतिशत आना चाहिए था, लेकिन विद्यार्थियों की कारस्तानी के चलते बीयू की छवि खराब हुई है। बता दें कि बीयू ने बुधवार को आधा दर्जन परीक्षाओं के रिजल्ट जारी किए। इसमें एमए अरबिक सीबीसीएस में 100 प्रतिशत, डिप्लोमा योग 94.12, इलेक्ट्रॉनिक एंड कम्यूनिकेशन 87.50 और मेकेनिकल में 78.13 फीसदी विद्यार्थी पास हुए हैं। शेष विद्यार्थी ओपन बुक सिस्टम में किताबों से उचित जवाब खोजकर नहीं लिखने के कारण फेल हुए हैं।

जिन परीक्षार्थियों ने उत्तर के स्थान पर अनुचित उत्तर लिखें है। उन्हें उसी तरह अंक आवंटित किए जाने के लिए प्रोफेसरों को निर्देश दिए गए थे। इसके चलते कुछ परीक्षार्थी फेल भी हुए हैं। ऐसा इसलिए, क्योंकि उनके उत्तर से प्रोफेसर संतुष्ट नहीं हुए। -डॉ. हरिहर शरण त्रिपाठी, रजिस्ट्रार, बीयू

29 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

EMPLOYEE NEWS- एरियर्स और डीए पर कोई समझौता नहीं करेंगे: कर्मचारी संघ 
NATIONAL NEWS- ग्राम पंचायत से बनेंगे ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, पैन कार्ड और आधार कार्ड
BHOPAL NEWS- गृह मंत्री का कथित पीए सस्पेंड, ऑडियो वायरल के बाद हुई कार्रवाई
BHOPAL NEWS- वैक्सीन नहीं लगवाने वाले शिक्षकों का 1 महीने का वेतन कटेगा
मध्य प्रदेश मानसून- 9 जिलों के लिए रेड अलर्ट, 31 जुलाई तक खतरा रहेगा
MP NEWS- नगरीय निकाय चुनाव कब होंगे, मंत्री भूपेंद्र सिंह ने बताया
AIRTEL NEWS- मोबाइल की इनकमिंग 62% महंगी हुई
JABALPUR NEWS- बाउंस चेक की वैल्यू कितनी होती है, समझना है तो इस मामले को पढ़िए 
INDORE NEWS- उषा ठाकुर फेम सस्पेंडेड डिप्टी रेंजर का बहाली के बिना ट्रांसफर
INDORE सहित मध्यप्रदेश में घर बैठे ड्राइविंग लाइसेंस मिलेगा, डिप्टी कमिश्नर RTO ने नई तारीख बताई
MP NEWS- कमलनाथ को झटका, दिग्विजय सिंह ने विभा को दिखाकर अर्चना को बिठा दिया
 

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiजालसाज व्यक्ति को 420 क्यों कहते हैं ​
GK in Hindiकागज के ग्लास में पानी गर्म करें तो पहले कागज जलेगा या पानी
GK in Hindiरानियों के रेशमी वस्त्र किससे धुलते थे, वाशिंग पाउडर तो था नहीं
GK in Hindiपुष्पक विमान किस ईंधन से चलता था, पेट्रोल और बैटरी तो उस समय होते नहीं थे
GK in Hindi- हिटलर की मूछें टूथब्रश जैसी क्यों थी, योद्धाओं जैसी क्यों नहीं, पढ़िए
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here