Loading...    
   


GWALIOR NEWS: तिघरा में सिर्फ 1 माह का पानी, बारिश नहीं होती है, तो हालात बिगड़ सकते हैं

ग्वालियर।
 मध्य प्रदेश के ग्वालियर शहर की प्यास बुझाने वाला तिघरा डैम खुद ही प्यासा है। इसका जलस्तर लगातार गिरता जा रहा है। यहां से हर दिन शहर की प्यास बुझाने के लिए जितना पानी छोड़ा जाता है, उसका 30 % वाष्पीकरण के कारण उड़ जाता है। कहने को तो ग्वालियर में 19 जून को मानसून आ गया था, लेकिन बारिश अभी तक नहीं हुई।  

यही कारण है, तिघरा का जलस्तर गिरकर 720.40 फीट पर आ गया है। शहर की प्यास बुझाने नहर में जिन गेट से पानी छोड़ा जाता है, वह 30 चूड़ियों तक खुल चुके हैं। तेज धूप और बारिश न होने का शिकार अकेला तिघरा डैम ही नहीं है, बल्कि अंचल के हरसी, अपर ककैटो, ककैटो व पेहसारी बांध का भी यही हाल है। यही कारण है, सभी डैम का जलस्तर गिरता जा रहा है।

नदियां और तालाब में पानी नहीं है। नदियों पर बने डैम भी धीरे-धीरे डेड स्टोर तक पहुंच रहे हैं। ग्वालियर में मौसम विभाग ने 19 जून को मानसून आने की घोषणा की थी। 7 दिन हो चुके हैं और मानसून का पहला सप्ताह सूखा निकला है। इसके अलावा प्री मानसून में भी बारिश नहीं हुई है। ग्वालियर में अभी तक बारिश की स्थिति इस प्रकार है। अब शहर की प्यास पर संकट मंडराने लगा है। हालांकि पेहसारी से अभी तक 500 MCFT पानी छोड़ा जा चुका है। ककैटो से 700 MCFT पानी आना है। ऐसे में कुछ दिन तक काम चल जाएगा। बारिश नहीं होती है, तो 31 जुलाई के बाद आज की स्थिति में तिघरा से पानी देना मुश्किल हो जाएगा।

ग्वालियर की आबादी की 60 फीसदी प्यास तिघरा के पानी से बुझाई जाती है। शेष 40 फीसदी पानी की आपूर्ति बोरिंग, कुएं व अन्य माध्यम से होती है। इस समय बारिश हो नहीं रही है, इसलिए नदियों और तालाब के जल स्तर में गिरावट आई है। तेज धूप और उमस के चलते शहर में जितना पानी तिघरा से दिया जा रहा है। उसका 30 फीसदी वाष्पीकरण से उड़ रहा है।

जल संसाधन से रिटायर्ड इंजीनियर जे. राजपूत बताते हैं कि इस तरह के हालात हर साल देखने को मिलते हैं। अभी बारिश न होने से पानी का संकट गहरा सकता है। तिघरा में अन्य डैम पेहसारी, ककैटो से पानी लाया जा रहा है। इस समय नहर भी सूखी होने से जितना पानी छोड़ा जाता है, उसका 40 फीसदी ही यहां आ पा रहा है। जल्द बारिश नहीं होती है, तो हालात बिगड़ सकते हैं।

26 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मध्य प्रदेश मानसून- 9 जिलों में मूसलाधार, 4 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी
MP NEWS- जो गरीब बच्चे स्कूल फीस नहीं भर सकते उन्हें व्हाट्सएप पर पढ़ाने के आदेश जारी
MP NEWS- मध्य प्रदेश के 90000 स्कूलों की स्वायत्तता समाप्त करने के आदेश
KHULA KHAT- MP-DPI वेरीफाइड शिक्षकों के 10 जुलाई से पहले नियुक्ति पत्र जारी करें
MP BJP NEWS- प्रभारी मंत्री और निगम मंडल की नियुक्तियां निश्चित, भाजपा में चेहरे बदलेंगे
JABALPUR BJP NEWS- मैं शर्मिंदा हूं, मेनका गांधी मेरी पार्टी की सांसद हैं: अजय विश्नोई
RERA MP सरकारी नौकरी- आवेदन की लास्ट डेट 12 जुलाई
INDORE NEWS- डाॅक्टर के बेटे की मौत पर टीचर ने कहा: मजा आ गया
SSC NEW EXAM CALENDAR जारी करने की तैयारी

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

HEALTH TIPS IN HINDI- मात्र ₹20 में पेट का पॉइजन खत्म, 20 से ज्यादा बीमारियां नहीं होंगी 
HEALTH TIPS IN HINDI- घबराहट और बेचैनी क्यों होता है, कैसे कंट्रोल किया जा सकता है
RASHIFAL- 12 में से 6 राशि वालों के लिए गुड न्यूज़
GK IN HINDI- BIKE का इंजन CC में क्यों होता है, हॉर्स पावर में क्यों नहीं होता
GK IN HINDI- ATM से थर्मल पेपर की पर्ची क्यों निकलती है, सादा कागज क्यों नहीं है
National Scholarships APP यहां से DOWNLOAD करें, भारत सरकार द्वारा सभी प्रकार की छात्रवृत्ति के लिए संचालित
e-LOTS APP यहां से DOWNLOAD करें - कक्षा 1 से लेकर कक्षा 12 तक की किताबें बिल्कुल फ्री
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here