Loading...    
   


GWALIOR: सुधीर कमरिया गैंग का एक सदस्य गिरफ्तार, दहशत फैलाने जज पर हमला किया था - MP NEWS

ग्वालियर।
 मध्य प्रदेश के ग्वालियर शहर के थाटीपुर एवं आसपास के इलाके में दहशत फैलाने के लिए सुधीर कमरिया गैंग ने पिछले दिनों न्यायधीश सचिन जैन पर हमला करके लूटपाट की थी। 3 दिन तक तमाम कोशिशों के बाद पुलिस के हाथ सुधीर कमरिया गैंग का एक सदस्य लग गया है। उसने गैंग के सभी सदस्यों के नाम का खुलासा भी कर दिया है।

न्यायधीश सचिन जैन पर हमले का विवरण

शनिवार दिनांक 27 मार्च 2021 की रात को न्यायिक मैजिस्ट्रेट सचिन जैन जब रात्रि का भोजन करने के बाद बंगले के बाहर टहल रहे थे तभी सुधीर कमरिया गैंग ने उन पर हमला किया। सबसे पहले उन पर स्कॉर्पियो कार चढ़ाने की कोशिश की गई। फिर उनको सड़क पर पटक कर लात घूसों से पीटा और बंदूक-कट्‌टे के बट सिर में मारे। इससे भी मन नहीं भरा तो चेहरे पर चाकू से मार किया। जो नाक पर लगा। इसके बाद 20 तौला सोने की चेन लूटकर ले गए थे।

नरवर का आनंद रजक गिरफ्तार, सुधीर कमरिया गैंग का सदस्य था

ग्वालियर में जज पर हमले के बाद पुलिस पर काफी दबाव था। गाड़ी का रजिस्ट्रेशन नंबर सुधीर कमरिया निवासी बुंदेला कॉलोनी दतिया के नाम पर था। पुलिस ने सुधीर कमरिया की तलाश में दतिया से लेकर भोपाल तक कई ठिकानों पर दबिश दी लेकिन सुधीर कमरिया को गिरफ्तार नहीं कर पाई। इस दौरान सुधीर कमरिया गैंग का एक सदस्य पुलिस के हाथ लग गया। पुलिस ने मंगलवार 30 मार्च 2021 की सुबह आनंद रजक को गिरफ्तार किया है। वह सिटी सेंटर महलगांव में रहता है और मूल रूप से नरवर शिवपुरी का रहने वाला है।

SDM बंगले से दोस्त से मिलकर आ रहा था

पकड़े गए आरोपी ने बताया वह उस दिन अपने दोस्त अभिषेक दुबे से मिलकर लौट रहा था। अभिषेक दुबे थाटीपुर में एक शासकीय क्वार्टर में रहता है। इस क्वार्टर को वह SDM प्रदीप कुमार का बताता है। साथ ही आनंद का कहना है कि उन्हें जरा भी भनक नहीं थी कि वो जज हैं। नहीं तो वह बात भी नहीं करते। उसने अपने सारे साथियों के नामों का खुलासा कर दिया है। साथ ही कहा है कि उसने कुछ भी नहीं किया था।

सुधीर कमरिया गैंग में इन लोगों के नाम

हमला करने वालों में सुधीर कमरिया का नाम पहले से ही तय था। आनंद रजक को पुलिस ने पकड़ा है। अब इस मामले में सुधीर कमरिया, धर्मेन्द्र गौतम, अभिषेक दुबे, शिवम यादव, उत्कर्ष शुक्ला, कुलदीप की तलाश जारी है। पुलिस इनके पीछे लगी है। मारपीट के अगले दिन जब इन लोगों को पता लगा कि जिससे उन्होंने मारपीट की है वह जज है। उसके बाद तो आरोपी फरार हो गए हैं।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here