Loading...    
   


GWALIOR में माफिया ने SAF और फॉरेस्ट की टीम पर 20 मिनट तक फायरिंग की, जान बचाकर भागे - MP NEWS

ग्वालियर
। तिगरा के जंगलों में खदान माफिया ने अवैध उत्खनन रोकने SAF के साथ आई फॉरेस्ट डिपार्टमेंट की टीम को चारों तरफ से घेर लिया। 20 मिनट तक लगातार फायरिंग की गई। SAF और वन विभाग की टीम को जान बचाकर भागना पड़ा। 

फॉरेस्ट रेंजर, ग्वालियर पुलिस और SAF ने मिलकर छापामार कार्रवाई की

घटना गुरुवार-शुक्रवार दरमियानी रात 1.40 बजे की है। SDO घाटीगाव सर्किल संजीव कुमार ने बताया कि रात को करीब 12:50 बजे सूचना मिली थी कि तिघरा थाना क्षेत्र के लखनपुरा इलाके में खनन माफिया द्वारा पत्थर का अवैध खनन किया जा रहा है। सूचना पर रेंजर विकास मिश्रा के साथ ही तिघरा चौकी प्रभारी सुनील जेवियर, गेमरेंज सुपरवाइजर शंकर खलको के साथ ही वन विभाग का अमला निकला। साथ में SAF का बल भी था। यह सभी लखनपुरा के जंगल में पहुंचे, जहां एक JCB मशीन से पत्थर का उत्खनन करती मिला। वन विभाग व SAF के बल ने JCB मशीन को घेर लिया और JCB चला रहे ऑपरेटर को हिरासत में ले लिया।

माफिया की ओर से अचानक फायरिंग शुरू हो गई, हथियारबंद सरकारी टीम जवाबी फायरिंग नहीं कर पाई

वन अमले ने मशीन जब्त कर एक ऑपरेटर को पकड़ा ही था कि तभी अचानक जंगल की झाड़ियों से फायरिंग शुरू हो गई। वन अमले को संभलने का मौका ही नहीं मिला। जवान अपनी राइफल तक नहीं निकाल पाए। किसी तरह छिपकर अपनी जान बचाई। रुक-रुक माफिया गोली चला रहे थे। इसी दौरान वे अपनी JCB मशीन और ऑपरेटर को छुड़ा ले गए। गोलीबारी की सूचना पुलिस को दी गई। जब तक पुलिस पहुंची माफिया सामान समेटकर भाग चुके थे।

SAF के जवान से कार्बाइन लूट ले गए थे

माफिया ने हमला करने के बाद एक SAF जवान से कार्बाइन लूट ली है। यह खबर पुलिस के पास पहुंची थी। पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने घटनास्थल पर छानबीन की तो कार्बाइन वहीं पड़ी मिल गई है। पुलिस को आशंका है कि अचानक हमले से जवान छिपने के लिए भागे होंगे तो गन छूट गई होगी।

तिघरा के जंगल में माफिया का राज: 15 दिन में दूसरी बार सरकारी टीम पर हमला

तिघरा के जंगल में लखनपुरा के पास 15 दिन में दूसरी बार वन विभाग के अमले पर हमला हुआ है। इससे पहले पत्थर से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली छुड़ा ले गए थे। इससे पहले घाटीगांव में भी वन अमले पर हमला हुआ था। एक महीने पहले पुरानी छावनी में रेत माफिया ने TI पुरानी छावनी को कुचलने का प्रयास किया था।

26 फरवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here