Loading...    
   


GWALIOR: होम्योपैथिक कॉलेज के वीरेन्द्र त्रिपाठी, डॉ. रणवीर सिंह और अखिलेश कुशवाह पर FIR - MP NEWS

ग्वालियर।
 मध्य प्रदेश के ग्वालियर में वसुंधरा राजे होम्योपैथिक चिकित्सा महाविद्यालय कोई पद पर न होते हुए भी तीन पूर्व पदाधिकारियों ने कॉलेज के अकाउंट से 2.68 लाख रुपए निकाल लिए हैं। इस राशि को निकालने के लिए न तो समिति को विश्वास में लिया गया है न ही अध्यक्ष के हस्ताक्षर कराए गए। साथ ही इन पैसों का क्या किया, कुछ पता नहीं है। 

घटना बीते वर्ष वसुंधरा राजे होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज की है। कंपू थाना पुलिस ने शिकायत पर जांच के बाद ठगी का मामला दर्ज किया है। कंपू थाना क्षेत्र स्थित वसुधरा राजे होम्योपैथिक चिकित्सा महाविद्यालय चिरवाई नाका में डॉ. पप्पू पुत्र किशन लाल पिप्पल शिक्षक है। वह कॉलेज की प्रबंधन समिति में सदस्य भी हैं। कुछ दिन पहले उन्होंने कंपू थाने में शिकायत की थी। जिसमें आरोप था कि कॉलेज के पूर्व कर्मचारियों वीरेन्द्र त्रिपाठी, डॉ. रणवीर सिंह और अखिलेश कुशवाह ने कॉलेज के अकाउंट में जमा 2 लाख 68 हजार रुपए निकालकर खुर्दबुर्द किए हैं। मामले का पता चलते ही पुलिस ने जांच की तो शिकायत की पुष्टि हुई। इसके बाद कंपू थाना पुलिस ने तीनों पूर्व कर्मचारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

पुलिस जांच में पता चला है कि वीरेन्द्र त्रिपाठी, डॉ. रणवीर सिंह और अखिलेश कुशवाह को काफी समय पहले ही समिति से हटा दिया गया था। उनके स्थान पर नई समिति गठित की गई थी। इसके बाद उन्होंने बीते वर्ष जून से अगस्त के बीच चेक के माध्यम से यह रकम अन्य खातों में ट्रांसफर की है, जबकि कॉलेज का पैसा शासकीय पैसा है। शासकीय पैसे को खर्च करने के लिए समिति के अन्य पदाधिकारियों के साथ ही प्राचार्य के हस्ताक्षर होते हैं। इन साइन को ही सभी की सहमति माना जाता है। इन्होंने वह साइन भी फर्जी किए। इस पर सीएसपी पड़ाव नागेन्द्र सिंह का कहना है कि शिकायत पर मामला दर्ज किया है अब विस्तार से जांच कर रहे हैं।

09 फरवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार 



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here