Loading...    
   


PATEL INFRASTRUCTURE LTD वर्ल्ड रिकॉर्ड का दावा

नई दिल्ली।
सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने दावा किया है कि NHAI के एक ठेकेदार पटेल इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड ने चार लेन के राजमार्ग पर 24 घंटे में 2,580 मीटर लंबी पावमेंट क्वालिटी कंक्रीट (PQC) सड़क बिछाकर विश्व रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। हालांकि, मंत्रालय ने यह नहीं बताया कि इससे पहले यह रिकॉर्ड किसके नाम था। यह रिकॉर्ड इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स और गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में दर्ज किया गया है। समाचार लिखे जाने तक गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में इसे दर्ज नहीं किया गया था।

48,711 वर्ग मीटर एरिया में कंक्रीट की सड़क निर्माण मात्र 24 घंटे में

ठेकेदार ने चार लेन के इस राजमार्ग पर 2,580 मीटर (करीब 10.32 लेन किलोमीटर) कंक्रीट सड़क बनाने की शुरुआत 01 फरवरी 2021 को सुबह 8 बजे की और अगले दिन सुबह 8 बजे इस लक्ष्य को पूरा कर लिया। एक्सप्रेसवे पर 18.75 मीटर चौड़ाई के साथ करीब 48,711 वर्ग मीटर एरिया में कंक्रीट की सड़क बिछाने के लिए 24 घंटे का समय लगा। इस दौरान 24 घंटे में कंक्रीट की सर्वाधिक मात्रा – 14,613 क्युबिक मीटर का रिकॉर्ड भी बना।

इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज किया गया पटेल इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड का नाम

एनएचएआई के ठेकेदार ‘पटेल इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड’के इस कारनामे को इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स और गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में मान्यता दी गई है। यह रिकॉर्ड ग्रीनफील्ड दिल्ली-वड़ोदरा-मुंबई 8 लेन एक्सप्रेसवे परियोजना का हिस्सा है। इस रिकॉर्ड को दुनिया की पूर्णतः ऑटोमेटिक अल्ट्रा मॉडर्न कंक्रीट बिछाने की मशीन से बनाया गया है।

ठेकेदार ने यह कारनामा ऐसे समय में किया है, जब चालू वित्त वर्ष 2020-21 में सरकार ने अप्रैल 2020 से 15 जनवरी 2021 के बीच 28.16 किमी. प्रतिदिन की गति से कुल 8,196 किमी लंबाई के राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण किया है। इस अवधि के दौरान पिछले वित्त वर्ष में 26.11 किमी प्रतिदिन की रफ्तार से कुल 7,573 किमी राष्ट्रीय राजमार्ग सड़कों का निर्माण किया गया था। मंत्रालय को उम्मीद है कि इसी गति से सड़कों का निर्माण होने पर 31 मार्च 2021 तक 11,000 किमी राष्ट्रीय राजमार्ग सड़क निर्माण के लक्ष्य को हासिल कर लिया जाएगा। (03 FEB 2021 5:51PM by PIB Delhi)

04 फरवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here