Loading...    
   


चंबल में डाकुओं की धमचक, झांसी से किडनैप किया गया डॉक्टर बक्सानी मिला - MP NEWS

ग्वालियर
। मध्य प्रदेश के चंबल (भिंड मुरैना का वन क्षेत्र) में एक बार फिर डकैत गिरोह की चहल कदमी का मामला सामने आया है। डाकुओं के गिरोह ने झांसी के प्रसिद्ध डॉक्टर राधाकृष्ण गुरु बक्सानी को उनके यहां से किडनैप किया और 24 घंटे से कम समय में चंबल के जंगलों में ले आए। यहां डॉक्टर मुक्त हो गया है। पुलिस एवं डॉक्टर की कहानी कुछ और है जबकि सूत्रों का कहना है कि फिरौती की रकम मिलने के बाद डाकुओं ने डॉक्टर को मुक्त कर दिया है। पुलिस ने समाचार लिखे जाने तक डाकू गिरोह के नाम का खुलासा नहीं किया है।

डकैत गिरोह ने कुख्यात डाकू ददुआ के नाम का उपयोग किया था

उत्तर प्रदेश के झांसी निवासी 62 वर्षीय राधाकृष्ण गुरु बक्सानी जाने माने डॉक्टर हैं। शुक्रवार सुबह कुछ हथियारबंद बदमाश आए और अपने साथी का इलाज कराने के नाम पर डॉक्टर का अपहरण कर अपने साथ ले गई। झांसी की कानपुर रोड से हुए अपहरण की खबर ने पूरे इलाके में सनसनी फैला दी। झांसी पुलिस ने आसपास के इलाकों में अलर्ट भेज दिया था। 

जंगल के रास्ते पैदल-पैदल 1 दिन में झांसी से मुरैना पहुंच गए

बताया गया है कि डकैत, किडनैप किए गए डॉक्टर को जंगल के रास्ते पैदल-पैदल ले जा रहे थे। रात अधिक हो जाने के कारण विश्राम करने के लिए डकैतों ने डॉक्टर के पैरों में लोहे की जंजीर बांधी और सो गए। शनिवार तड़के मौका पाकर डॉक्टर कोहनी के बल पर सकता हुआ करीब आधा किलो मीटर डकैतों से दूर आ गया। एक खेत के नजदीक आने के बाद डॉक्टर को कुछ ग्रामीण दिखाई दिए। डॉक्टर ने उन्हें मदद के लिए पुकारा। पूछने पर पता चला कि डॉ इस समय मुरैना जिले के हिंगोना गांव में हैं। डॉक्टर ने आपबीती सुनाई तो गांव वालों ने डायल 100 पर इसकी सूचना दे दी। थोड़ी देर बाद पुलिस पहुंच गई। 

2 करोड रुपए फिरौती की मांग की थी

डॉक्टर ने मुरैना पुलिस को बताया कि उसका अपहरण करने वाले हथियारबंद डकैत हैं। उनकी संख्या 3 थी। पहले तो वह यह कह रहे थे कि किसी का इलाज कराने ले जा रहे हैं। बोले- उसका इलाज कराने के बाद छोड़ देंगे, लेकिन बीच में यह भी सुनाई पड़ा कि डॉक्टर काफी चर्चित है। इसके लिए तो एक से दो करोड़ रुपए तक भी मिल जाएंगे। असल मामला अपहरण और फिरौती है।

कौन है अपहरण करने वाला गैंग

अब मुरैना पुलिस पता लगा रही है कि डॉक्टर का अपहरण करने वाला गिरोह कौन है। साथ ही, ददुआ तो सिर्फ बहाना है, यह गैंग एमपी के मुरैना या राजस्थान के धौलपुर का लग रहा है। इसके बाद पुलिस और अलर्ट हो गई है।

30 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार 



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here