Loading...    
   


MOREAN शराब कांड: कलेक्टर-एसपी हटाए, मुख्यमंत्री की कार्रवाई, मरने वालों की संख्या बढ़कर 20 हुई - MP NEWS

भोपाल
। मुरैना में माफिया की शराब के कारण करीब 20 लोगों की मौत के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुरैना के कलेक्टर अनुराग वर्मा और SP अनुराग सुजातिया को हटाने का आदेश दिया गया है। इससे पहले कल शाम तक 4 पुलिस अधिकारी और एक आबकारी अधिकारी को सस्पेंड कर दिया गया था। उल्लेखनीय है कि माफिया की जहरीली शराब जितने भी लोगों ने भी पी, सभी बीमार हो गए और धीरे-धीरे मर रहे हैं।

खाद्य पदार्थों में मिलावट माफिया का गढ़ है मुरैना 

ध्यान देना जरूरी है कि मध्य प्रदेश का मुरैना जिला एक ऐसा क्षेत्र है जहां केवल जहरीली शराब ही नहीं बल्कि लगभग सभी प्रकार के खाद्य पदार्थों में मिलावट की जाती है। यहां मिलावट का कारोबार बड़े पैमाने पर होता है। मुरैना का मिलावटी मावा मध्यप्रदेश सहित राजस्थान और उत्तर प्रदेश में सप्लाई होता है। मुरैना का नकली दूध भी मध्यप्रदेश और राजस्थान में सप्लाई होता है। बताने की जरूरत नहीं की मुरैना के माननीय विधायक के बेटे का नाम राजस्थान पुलिस का रिकॉर्ड में रेत माफिया के तौर पर दर्ज है। 

कलेक्टर-एसपी और आबकारी अधिकारी जिम्मेदार: गृह मंत्री ने कहा

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मुरैना की घटना बहुत दुखद थी। अगर इस तरह की घटना कहीं भी होगी तो वहां के कलेक्टर, एसपी और आबकारी अधिकारी तीनो ज़िम्मेदार माने जाएंगे।

13 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here