Loading...    
   


भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी: शिवराज के 6, नरोत्तम और कैलाश के 2-2, तोमर और सिंधिया 1-1

भोपाल
। भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यकारिणी में प्रदेश के दिग्गज नेताओं का शक्ति प्रदर्शन भी हो गया। पिछली बार की तुलना में इस बार पदों की संख्या बढ़ाई गई लेकिन फिर भी बहुत सारे लोग शेष रह गए। यदि नंबर गेम की बात करें तो शिवराज सिंह चौहान ने सत्ता के बाद संगठन में भी बाजी मार ली है। उनके 6 समर्थक प्रदेश कार्यकारिणी में है। दूसरे नंबर पर नरोत्तम मिश्रा और कैलाश विजयवर्गीय अपने 2-2 समर्थकों को जगह दिलवा पाए। महाराजा ज्योतिरादित्य सिंधिया और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के केवल 1-1 समर्थक को जगह देकर संतुष्ट किया गया है। 

मध्य प्रदेश भाजपा की कार्यकारिणी में कौन किस के कोटे से

शिवराज सिंह चौहान के करीबी भोपाल के पूर्व महापौर आलोक शर्मा, महिला मोर्चा की पूर्व अध्यक्ष सीमा सिंह को उपाध्यक्ष बनाया गया है। जबकि प्रदेश मंत्री राजेश पांडे, ललिता यादव,लता वानखेड़े, प्रभुदयाल कुश्वाहा भी मुख्यमंत्री के समर्थक माने जाते हैं।
कैलाश विजयवर्गीय के करीबी जीतू जिराती और विधायक बहादुर सिंह सोंधिया प्रदेश मंत्री बने हैं।
नरोत्तम मिश्रा के कोटे से मुकेश चौधरी को उपाध्यक्ष बनया गया है। हालांकि सांसद संध्या राय को उपाध्यक्ष बनाए जाने को लेकर कहा जा रहा है कि इन्हें संगठन में लेने के लिए नरोत्तम ने ही वीटो लगाया था। 
नरेंद्र सिंह तोमर के खास सिंगरौली के जिला अध्यक्ष रहे कांतदेव सिंह को उपाध्यक्ष बनाया गया है।
ज्योतिरादित्य सिंधिया के करीबी ग्वालियर के मदन कुश्वाहा को प्रदेश मंत्री बनाया गया है। 

भाजपा के कुछ कद्दावर नेताओं को अब तक कुछ नहीं मिला

मंत्रिमंडल विस्तार में जिन वरिष्ठ विधायकों को उम्मीद थी कि उन्हें संगठन में जगह मिलेगी, लेकिन उनकी जगह नए चेहरों पर भरोसा किया गया है। पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ला को कार्यकारिणी में नहीं लिया गया,लेकिन उनके करीबी राजेश पांडे को उपाध्यक्ष बनाया गया हे। इसी तरह पूर्व मंत्री रामपाल सिंह, संजय पाठक और अजय विश्नोई भी जगह पाने में कामयाब नहीं हो सके।

14 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे हैं समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here