Loading...    
   


कमलनाथ: जमीनी कार्यकर्ताओं की शरण में जाने की तैयारी- नगरीय निकाय चुनाव - MP NEWS

भोपाल
। मध्य प्रदेश कांग्रेस की सक्रिय राजनीति में आते ही कमलनाथ ने अपने फार्मूले उपयोग करना शुरू कर दिया था। मध्यप्रदेश विधानसभा उपचुनाव 2020 में जब कमलनाथ को फ्री हैंड मिला तो उन्होंने अपने तरीके से काम किया। प्रत्याशी चयन के लिए प्राइवेट एजेंसी से सर्वे कराया और कार्यकर्ताओं की बातों को पूरी तरह से दरकिनार किया परंतु 28 में से 19 सीट हारने के बाद नगर पालिका- नगर निगम चुनाव में कमलनाथ फिर से कांग्रेस की जमीनी कार्यकर्ताओं की शरण में जाने की तैयारी कर रहे हैं। 

खबर आ रही है कि नगर पालिका - नगर निगम चुनाव में प्रत्याशियों का चयन कमलनाथ नहीं करेंगे बल्कि जिला कांग्रेस कमेटी जिन नामों की सिफारिश करेगी, प्रदेश कांग्रेस कमेटी उनमें से ही एक नाम का फैसला लेगी। यानी जिला कांग्रेस कमेटी एक बार फिर पावरफुल हो जाएंगी।

कांग्रेस पार्टी ने इन्हें सौंपी जिम्मेदारी

कुलदीप इंदौरा- खंडवा, बुरहानपुर, खरगोन, बड़वानी, आलीराजपुर्, झाबुआ, रतलाम, धार, इंदौर, उज्जैन, मंदसौर, नीमच और आगर मालवा।
सुधांशु त्रिपाठी- श्योपुर, मुरैना, भिंड, दतिया, ग्वालियर, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, रायसेन, विदिशा, भोपाल, सीहोर और राजगढ़।
सीपी मित्तल- अनूपपुर, डिंडोरी, मंडला, जबलपुर, बालाघाट, सिवनी, छिंदवाड़ा, होशंगाबाद, नरसिंहपुर, बैतूल, हरदा, देवास और शाजापुर।
संजय कपूर- टीकमगढ़, निवाड़ी, छतरपुर, सागर, दमोह, पन्ना, कटनी, सतना, रीवा, सीधी, सिंगरौली, शहडोल और उमरिया। 

13 दिसम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here