Loading...    
   


भोपाल में तांत्रिक पड़ोसी की पत्नी का रेप करता था, इसलिए उसकी हत्या हुई: खुलासा - MP NEWS

भोपाल
। भोपाल पुलिस ने 5 सितंबर 2020 को जीआरपी हबीबगंज पुलिस थाना क्षेत्र में हुई एक वृद्ध व्यक्ति की हत्या के मामले में खुलासा कर दिया है। पुलिस का कहना है कि मरने वाला व्यक्ति एक तांत्रिक था, उसने तंत्र मंत्र का डर दिखाकर पड़ोसी की पत्नी को भयभीत कर दिया था और उसके साथ रेप करता था। डर के कारण महिला वह सब कुछ करती थी जो तांत्रिक चाहता था। इसी के चलते महिला के पति ने तांत्रिक की हत्या कर दी।

थाना प्रभारी बीएल सेन ने बताया कि बीते 5 सितंबर स्टेशन बरखेड़ा से कुछ दूर एक अज्ञात व्यक्ति का शव मिला था। मृतक की पहचान छेदा लाल पिता भारमल (78) निवासी ग्राम कैरी चौका बरखेड़ा थाना औबेदुल्लागंज के रूप में हुई। जांच में हत्या की बात सामने आई। हत्या धनराज पिता फूलचंद्र चौधरी (35) निवासी ग्राम पथरौटा जिला होशंगाबाद ने की थी। पहले लगा कि संभवत: उसकी मौत किसी ट्रेन से टकराने से हुई है, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि उसे सिर पर पत्थर पटककर मारा गया है। हत्या का मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू की गई। 

जांच में पता चला कि छेदा लाल ने दो शादियां की थी। छेदा लाल ने पहली पत्नी की मौत होने पर दूसरी शादी की थी। कुछ समय बाद दूसरी पत्नी की भी मौत हो गई थी। उसके दोनों पत्नियों से एक-एक बच्चा है। जड़ी-बूटियों से इलाज में माहिर होने के कारण छेदा लाल ने परिवार से अलग रहकर बरखेड़ा के पुराने लोको शेड के खंडहर में झुग्गी बनाकर रहने लगा था। उपचार का असर होने पर कई लोग उसके पास अपने मर्ज का इलाज कराने आने लगे थे।

थाना प्रभारी सेन के मुताबिक, पूछताछ में आरोपी धनराज ने बताया कि मृतक छेदा लाल उसके पड़ोस में रहता था। वह झाड़-फूक व देशी जड़ी-बूटियों से बच्चे न होने और अन्य बीमारियों की दवा देकर इलाज करता था। उसके पास दूर-दूर से लोग इलाज कराने आते थे। पड़ोसी होने के नाते उसका हमारे घर भी आना जाना था। तांत्रिक अकेले रहता था। इसी बीच, मृतक ने इसकी पत्नी को बहकाना शुरू कर दिया।

पत्नी को धमकाने लगा था
आरोपी ने बताया कि तांत्रिक बाबा पत्नी को धमकाने लगा कि मेरे साथ शारीरिक संबंध बनाओ, नहीं तो पति और बच्चों को तंत्र विद्या से पागल कर दूंगा या मार दूंगा। आरोपी धनराज मजदूरी करने चला जाता था। इसी बीच, तांत्रिक के अवैध संबंध उसकी पत्नी से बन गए। मोहल्ले में इसकी चर्चा होने लगी। आरोपी द्वारा भी मृतक को दो तीन बार पत्नी के साथ आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ा। बाबा को आरोपी द्वारा काफी समझाया, लेकिन वह नहीं माना।

जबरन साथ ले जा रहा था, इसलिए हत्या करनी पड़ी

पांच सितंबर की शाम छेदा लाल को लगने लगा था कि धनराज पत्नी-बच्चों को लेकर वहां से जा सकता है। इसके लिए उसने धनराज की पत्नी के अपहरण की योजना बना ली। चार सितंबर की शाम करीब सात बजे छेदा लाल धनराज की पत्नी को जबरन हाथ पकड़कर स्टेशन की तरफ ले जाने लगा।

इस दौरान, महिला ने शोर मचाते हुए बच्चों को आवाज लगाई। पत्नी की आवाज सुनकर धनराज मौके पर पहुंचा और छेदा लाल से पत्नी का हाथ छुड़ाकर अलग किया। वह घर की तरफ चली गई। इसके बाद पत्नी घर चली गई। स्टेशन से कुछ दूरी पर मृतक व आरोपी का विवाद होने लगा। इसी दौरान आरोपी ने मृतक के सिर पर पत्थर मार दिया, जिससे उसकी मौत हो गई।

14 नवम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here