Loading...    
   


पति, पिता की चिता को मुखाग्नि दे रहा था, पत्नी नगदी, जेवर समेटकर फरार हो गई - MP NEWS

ग्वालियर।
भितरवार थाना क्षेत्र के ग्राम भानगढ़ में एक युवक अपने पिता का अंतिम संस्कार करने गया। इसी दौरान मायके से आई पत्नी अपने भाइयों के साथ घर में रखी नगदी और सोने चांदी के आभूषण समेट कर ले गई जिसके संबंध में पति द्वारा पुलिस थाना भितरवार आकर पत्नी और उसके भाइयों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग को लेकर आवेदन दिया है। 

पुलिस थाने में पत्नी और उसके भाइयों के खिलाफ सौंपे गए आवेदन में पीडि़त पति जितेंद्र सिंह कुशवाह पुत्र सुखलाल कुशवाह निवासी ग्राम भानगढ़ ने उल्लेख किया है कि शनिवार की सुबह लगभग 6 बजे मेरे पिता सुखलाल कुशवाह की मृत्यु हो गई थी। जिसकी सूचना लगते ही पिछले 2 माह से अपने मायके में रह रही मेरी पत्नी राधा जो गुस्सा हो कर घर से अपने भाई के साथ चली गई थी, जब लिवाने गए तो उसने आने से इंकार कर दिया। तब वह शनिवार की सुबह अपने पिता कप्तान सिंह, माता हेमा, भाई राजेंद्र, रतिराम, भाभी क्रांति आदि निवासी भगे हाल निवास महाराजपुरा डबरा को लेकर गांव स्थित घर पर आई। 

जब हम लोग करीब 10 बजे अपने पिता का अंतिम संस्कार करने के लिए मुक्तिधाम गए हुए थे। इस दौरान घर पर उपस्थित परिवार की एवं रिश्तेदारों की महिलाओं को बगैर बताए यह सभी लोग घर के अंदर घुस गए और घर में छानबीन शुरू कर दी, इस दौरान धान बेचकर आए 55 हजार रुपए की नगदी एवं  एक सोने का हार डेढ़ तोले का, दो सोने की चूड़ी 2 तोला, अंगूठी आधा तोला,  मंगलसूत्र आधा तोला, चांदी की पायल 500 ग्राम भजन एवं चांदी की करधनी वजन 250 ग्राम आदि लेकर सभी लोग घर से रफूचक्कर हो गए। 

पिता का दाह क्रिया संस्कार मुक्तिधाम में करने के पश्चात जब हम लोग घर पर वापस आए। जैसे ही घर के अंदर पहुंचे तो घर का सामान उथल-पुथल करा हुआ डाला हुआ था। जिस पर छानबीन की गई तो अलमारी में और बक्से में रखे उपरोक्त सभी सोने चांदी के आभूषण और नकदी गायब मिले। जिसके बाद पीडि़त फरियादी द्वारा भितरवार थाने की एफआरवी को सूचना दी गई। जिस पर मौके पर पहुंची एफआरबी ने आसपास छानबीन की लेकिन उपरोक्त लोगों का कोई सुराग नहीं लग सका। 

जिस पर ऐप अरबी के स्टाफ द्वारा दी गई छानबीन रिपोर्ट पर पीडि़त पति शनिवार की शाम पुलिस थाने पहुंचा जहां उन्होंने अन्य परिजनों के साथ थाना प्रभारी केपी यादव को उपरोक्त लोगों के खिलाफ कार्यवाही कर चोरी गए सामान को वापस दिलाने की मांग की।

29 नवम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here