Loading...    
   


मप्र शिक्षक भर्ती: जनजातीय विभाग ने संभागीय पदों का रोस्टर तक जारी नहीं किया - Khula Khat

नमस्ते सर,
जेसे की आपको ज्ञात है कि मध्यप्रदेश में सितम्बर 2018 से चली आ रही शिक्षक भर्ती आज तक पूरी नहीं हुई है, योग्यता व मापदंड पर खरा उतरने के बाद भी नौकरी के लिए बेरोजगार युवाओं को संघर्ष करना पड़ रहा है, युवा वर्ग ने विज्ञापन निकलने की लड़ाई लड़ी फिर रिजल्ट के लिए और अब नियुक्ति के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। 

स्कूल शिक्षा विभाग और आदिम जाति कल्याण विभाग के लिए स्कूलों में 30594 पदो पर भर्ती के लिए पीईबी ने परीक्षा आयोजित की थी। परीक्षा के बाद मेरिट लिस्ट जारी हो चुकी है, स्कूल शिक्षा विभाग ने उच्च माध्यमिक शिक्षक और माध्यमिक शिक्षक की मेरिट लिस्ट और वेटिंग लिस्ट जारी कर दी है, फिर भी नियुक्ति नहीं दी जा रही है। रिजल्ट आए एक साल हो चुका है ओर भर्ती प्रक्रिया को 2 साल, फिर भी अभी तक किसी को नियुक्ति नहीं दी जा रही है।

परन्तु आदिम जाति कल्याण विभाग उच्च माध्यमिक शिक्षक की मेरिट ओर वेटिंग जारी कर चुका है, जबकि माध्यमिक शिक्षक का पदों का संभागीय रोस्टर अभी तक जारी नहीं किया गया है, जिससे युवाओं में रोष व्याप्त है, वर्ग 2 अर्थात माध्यमिक शिक्षक का रिजल्ट आए 1 साल 26 अक्टूबर को पुरा हो चुका है। एक साल बीत जाने के बाद भी पदों का संभागीय रोस्टर अभी तक जारी नहीं किया गया है, आदिम जाति कल्याण विभाग में माध्यमिक शिक्षक के 5704 पदों पर भर्ती होना है, जनजातीय विभाग में संपर्क करने पर सही से जानकारी भी नहीं दी जा रही है, जिसकी वजह से इतना वक्त गुजर जाने के बाद अब युवा मानसिक तनाव झेल रहा है।

29 नवम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here