Loading...    
   


पेट में गैस का स्थाई समाधान क्या है, यहां पढ़िए - HOME REMEDIES FOR GASTRIC IN HINDI

महिला या पुरुष किसी भी उम्र की क्यों ना हो गैस तो सब के पेट में बनती है। ज्यादातर लोगों की गैस आसानी से पास हो जाती है और उन्हें तकलीफ नहीं होती लेकिन कुछ लोगों का पेट गैस चैंबर बन जाता है। यह संख्या 1% भी नहीं है परंतु कुछ दुर्भाग्य सारे लोग ऐसे हैं जिन्हें पेट में गैस के कारण महीनों अस्पताल में रहना पड़ता है। जबकि आयुर्वेद और भारत की घरेलू उपचार पद्धतियों में पेट की गैस के विकार खत्म करने की कई उपाय बताए गए हैं। हम इनमें से कुछ चुनिंदा उपाय आपको बता रहे हैं:-

भोजन को चबा-चबा कर खाएं। यह बात इससे पहले भी कई लोगों ने बताई होगी परंतु हम आपको बताते हैं कि भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी शाम का भोजन चबा-चबा कर करते हैं और इसमें उन्हें 55 मिनट का समय लगता है। 

कृपया अपने भोजन में से मैदा और मैदा से बनी दूसरी चीजों को को अलग कर दें। यदि गैस ज्यादा बनती है तो अनिवार्य रूप से मल्टीग्रेन आटे का उपयोग करना चाहिए। शुरुआती तीन दिन अटपटा लगता है लेकिन ये काम करता है।

रात्रि भोजन का त्याग करें। यानी लेट नाइट डिनर पूरी तरह से बंद कर दें और सूर्यास्त के बाद सिर्फ लिक्विड भोजन ग्रहण करें। आपको पता ही होगा लेकिन फिर भी हम याद दिला देते हैं कि आपके पेट का मेटाबॉलिज़्म रात में 90% धीमा हो जाता है? शाम 6.00 बजे से सुबह 4.00 बजे तक 10% रह जाता है।

* व्यायाम और खानपान ये दोनों एक ही सिक्के के दो पहलू हैं।
* व्यायाम और खानपान के नियमों का पालन लगातार करना पडे़गा।
* कार्बोहाइड्रेट खाने की मात्रा घटाएँ, प्रोटीन की मात्रा बढ़ाएँ।
* कोल्ड ड्रिंक और जंकफ़ूड बंद कर दें। 
* यथासंभव घर का खाना एवं ताज़ा खाएँ।
* मीठा खाने की ललक हो तो फल खाएँ। 

* पानी प्रचुर मात्रा मेंं पीएँ।
* थाली छोटी हो और खाना कम परोसें। 
* खाने में गाजर, ककड़ी, बीटरूट, टमाटर, प्याज और लहसुन की तीन कलियां शामिल करें।
* खाना पेट भरने तक ही खाएँ।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here