Loading...    
   


सात चमत्कारी चीजें जो घर में सुख-समृद्धि लाती है, श्री कृष्ण ने युधिष्ठिर को बताई थी / Tips to Increase Your Family's Happiness And prosperity

भगवान कृष्ण की पूजा तो हर रोज होती है लेकिन श्री कृष्ण जन्माष्टमी का त्यौहार सारी दुनिया में धूम धाम मनाया जाता है। एक खास बात होती है कि श्री कृष्ण जन्माष्टमी से पहले भगवान कृष्ण के प्रति अनुयायियों की भक्ति उमड़ने लगती है। इस अवसर पर हम आपको बताते हैं कि भगवान श्री कृष्ण ने धर्मराज युधिष्ठिर को बताया था कि भारतवर्ष के परिवारों में 7 वस्तुओं का होना अनिवार्य है। इनके कारण ही घर में सुख-समृद्धि आती है और कष्टों का निवारण होता है।

1. चंदन: नकारात्मक ऊर्जा को समाप्त करता है

घर में चंदन का होना काफी शुभ माना जात है। इसकी महक से वातावरण की नकारात्मक ऊर्जा समाप्त होती है। सभी देवी देवताओं की पूजा में भी चंदन का विशेष महत्व है। चंदन का तिलक लगाने से मन को शांति मिलती है, क्योंकि माथे पर जिस जगह हम तिलक लगाते हैं वहां आज्ञा चक्र होता है।

2. वीणा: परिवार में ज्ञान की नियमित वृद्धि के लिए अनिवार्य

घर के किसी शांत-एकांत स्थान पर वीणा भी रखना चाहिए। वीणा घर में रखने से मां सरस्वती की कृपा बरसती है और घर के सभी सदस्यों के ज्ञान में विकास होता है। यह तो सभी जानते हैं कि बिना ज्ञान के हालात कितने खराब हो जाते हैं। जैसे आज की स्थिति में दुनिया भर के वैज्ञानिकों को कोविड-19 वायरस को खत्म करने वाली दवा का ज्ञान नहीं है।

3. गाय के दूध से बना घी: नकारात्मक ऊर्जा नष्ट करता है

भगवान श्री कृष्ण को गाय बहुत प्रिय थीं। ऐसा कहा जाता है कि घर में गाय के दूध से बना शुद्ध देशी घी जरूर रखना चाहिए और नियमित रूप से इसका सेवन करते रहना चाहिए। घी से शक्ति मिलती है और शरीर स्वस्थ रहता है। घर में शाम को गाय के घी का दीपक भी जलाना चाहिए। गाय के घी में कई चमत्कारिक गुण होते हैं। स्वास्थ्य के अलावा गाय के घी का दीपक घर में मौजूद नकारात्मक ऊर्जा को जलाकर नष्ट कर देता है एवं सकारात्मक ऊर्जा प्रवाहित करता है।।

4. शहद: घर के वास्तु दोष शांत करती है

अगर आपके घर की रसोई में शहद नहीं है तो इस जन्माष्टमी इसे जरूर खरीद लें। घर में शहद रखने से वास्तु के कई दोष शांत होते हैं। साथ ही पूजन में भी शहद जरूरी होता है। सभी देवी-देवताओं को इसे अर्पित किया जाता है। उन्हें भोग भी लगाया जाता है और जिन घरों में रोज पूजा की जाती है, उन घरों में देवी देवताओं की विशेष कृपा रहती है।

5. शीतल जल: जन्म कुंडली के दोष दूर करता है

घर में हमेशा साफ-सुथरे जल का ही इस्तेमाल करना चाहिए। घर में आए मेहमानों का स्वागत शीतल जल से स्वागत करना चाहिए। ऐसा करने से कुंडली के कई सारे दोष दूर होते हैं और इंसान के सिर से संकटों का भार कम होता है।

6. बांसुरी: परिवार के सदस्यों में प्रेम की वृद्धि के लिए

भगवान श्रीकृष्ण की प्रिय बांसुरी जिस घर में होती हैं, वहां धन और प्रेम की कभी कमी नहीं आती है। वास्तु के अनुसार भी इसे घर में रखना काफी शुभ बताया गया है। बांस की बांसुरी घर में रखने से गृह क्लेश की समस्या भी दूर होती है।

7. बाल गोपाल: भगवान साक्षात उपस्थित होते हैं

घर में बाल गोपाल की प्रतिमा आनंद का कारण होती है। बाल गोपाल की प्रतिमा का तात्पर्य होता है भगवान श्री कृष्ण साक्षात उपस्थित हैं। आपके सुख-दुख में भागीदार होते हैं। परिवार के नवजात शिशुओं के साथ खेलते हैं, वृद्धजनों के कष्टों को दूर करते हैं और युवाओं के सहयोगी बन जाते हैं।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here