Loading...    
   


आंकड़ों में जीतने के लिए नागरिकों की जिंदगियों से खिलवाड़ चल रहा है / Khula Khat by Kamal Nath

प्रिय श्री शिवराज सिंह चौहान जी
, सम्पूर्ण विश्व कोरोना वायरस की महामारी से निजात पाने के लिए हर प्रकार के जतन कर रहा है। हमारे देश और प्रदेश में भी इस महामारी को परास्त करने के लिए हर सम्भव कोशिश करने की आवश्यकता है।

बड़े अफसोस की बात है कि देश के अन्य प्रदेशों की तलना में मध्यप्रदेश में कोरोना के टेस्ट आज भी अत्यंत कम किये जा रहे हैं। जबकि आपको विदित है कि इस महामारी से नियंत्रण पाने का एक ही तरीका है कि संक्रमित लोगों को चिन्हित किया जाकर उन्हें स्वस्थ लोगों से पृथक किया जाये। आपके संज्ञान में यह होगा ही कि अगस्त, 2020 के मध्य तक प्रति 10 लाख व्यक्तियों पर किये गये कोरोना टेस्ट में मध्यप्रदेश द्वारा किये गये टेस्ट का औसत लगभग केवल 12 हजार है जबकि दिल्ली, आंध्रप्रदेश और असम जैसे राज्यों में यह औसत 50 हजार से भी अधिक है और इस प्रकार कोरोना टेस्ट कराने में मध्यप्रदेश की स्थिति कोरोना से सर्वाधिक संक्रमित देश के 15 राज्यों में 15 वीं अर्थात् अंतिम है।

मध्यप्रदेश में आपकी सरकार द्वारा कराये जा रहे कोरोना टेस्ट अत्यंत कम है और यह स्थिति अत्यंत ही चिंताजनक है। आपकी सरकार द्वारा इस गंभीर विषय पर चलाये गये अभियान केवल रस्म अदायगी एवं प्रचार-प्रसार तक की सीमित रहे । स्पष्ट है कि सरकार द्वारा किये जा रहे प्रयास गंभीर नहीं है एवं प्रदेश के आम जन को संक्रमण से मुक्त कर स्वस्थ जीवन प्रदान करने की तरफ कदम बढ़ाते हुए प्रतीत नहीं हो रहे हैं।

अनुरोध है कि आपकी सरकार कोरोना जैसे महत्वपूर्ण विषय पर गंभीर प्रयास प्रारंभ करे ताकि हमारा प्रदेश न केवल देश में बल्कि वैश्विक स्तर पर संक्रमण मुक्त होने का उदाहरण पेश कर सके और अंतत: हमारे प्रदेश के आम जन को इस महामारी से राहत मिल सके। 
शुभकामनाओं सहित, आपका (कमल नाथ)

18 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here