Loading...    
   


महात्मा गांधी की हत्यारी पिस्तौल का नाम, मॉडल और कीमत क्या थी / GK IN HINDI

यदि आप भारत के इतिहास, भारत का स्वतंत्रता संग्राम, महात्मा गांधी या फिर हथियारों में रुचि रखते हैं तो यह आपके लिए बड़े काम की जानकारी है। यह तो सभी लोग जानते हैं कि महात्मा गांधी की हत्या नाथूराम गोडसे ने की थी। पिस्तौल ग्वालियर से खरीदी गई थी और वह एक ऑटोमेटिक विदेशी पिस्तौल थी लेकिन बहुत सारे लोगों ने इतिहास में दर्ज उन लाइनों को नहीं पढ़ा जिसमें पिस्तौल का मॉडल और उसकी कीमत रखी हुई है।

चलिए शुरू करते हैं, तो महात्मा गांधी की हत्या का पहला प्रयास 20 जनवरी 1948 को किया गया था। जो पूरी तरह विफल रहा। इसके बाद नाथूराम गोडसे भागकर ग्वालियर आ गया। गांधी की हत्या का प्लान फेल होने के बाद उसकी समीक्षा के दौरान नाथूराम गोडसे ने पाया कि यह काम उसे खुद करना पड़ेगा। ग्वालियर सदियों से हिंदुओं का गढ़ रहा है जो हिंसा और क्रांति का समर्थन करते हैं।

महात्मा गांधी की हत्या में प्रयुक्त पिस्तौल की कीमत क्या थी

नाथूराम गोडसे ने डॉक्टर डी एस परचुरे से संपर्क किया जो एक हिंदू संगठन का संचालन कर रहे थे। नाथूराम गोडसे ग्वालियर से एक अच्छी क्वालिटी की पिस्तौल खरीदना चाहता था क्योंकि ग्वालियर में हथियारों के लिए लाइसेंस की जरूरत नहीं थी। परचुरे के परिचित गंगाधर दंडवते ने जगदीश गोयल की पिस्टल का सौदा नाथूराम से 500 रुपए में कराया था। इसी पिस्टल से नाथूराम ने 30 जनवरी 1948 को महात्मा गांधी की हत्या की थी।

महात्मा गांधी की हत्या में प्रयुक्त पिस्तौल का नाम और मॉडल (9mm BERETTA 1934)

जिस पिस्तौल से महात्मा गांधी की हत्या की गई, उस पिस्तौल का इस्तेमाल 1942 के द्वितीय विश्व युद्ध में किया गया था। यह पिस्तौल मुस्लिम की सेना के एक अधिकारी की थी जिसने ग्वालियर की सेना के सामने सरेंडर किया था। ग्वालियर की सेना के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल वीबी जोशी थे। मुस्लिम की सेना के सरेंडर में जो हथियार जब्त किए गए थे उसमें एक इटालियन ऑटोमेटिक पिस्तौल (9mm BERETTA 1934) लेफ्टिनेंट जनरल जोशी को इतनी पसंद आई कि उसे अपने साथ ले आए थे। बाद में यह पिस्तौल जगदीश गोयल ने खरीद ली और ₹500 में नाथूराम गोडसे को बेच दी थी। Notice: this is the copyright protected post. do not try to copy of this article (current affairs in hindi, gk question in hindi, current affairs 2019 in hindi, current affairs 2018 in hindi, today current affairs in hindi, general knowledge in hindi, gk ke question, gktoday in hindi, gk question answer in hindi,)


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here