Loading...    
   


MUMBAI से आए मकान मालिक के बेटे के कारण किराएदार क्वारंटाइन सेंटर भेजे गए / BHOPAL NEWS

भोपाल। कोरोनावायरस ने दुनिया को रिवाइंड कर के रख दिया है। 70-80 के दशक में भारत की बस्तियों में सामान्य दिनक्रम में शामिल था कि लोग अपने अलावा अपने पास पड़ोसियों के घर में होने वाली हलचल की भी जानकारी रखते थे। कोरोनावायरस से बचना है तो शायद अब भी ऐसा ही कुछ करना पड़ेगा क्योंकि भोपाल में कुछ लोगों को सिर्फ इसलिए क्वारंटाइन सेंटर में रहना पड़ रहा है क्योंकि उनके मकान मालिक का बेटा मुंबई से वापस आया था और किरायेदारों ने उसके बारे में पूरी पूछताछ नहीं की।

मामला क्या है

नेहरू नगर के एस सेक्टर निवासी 28 वर्षीय युवक मुंबई में जाॅब करता है। वह 6 जून 2020 काे भोपाल लौटा था, लेकिन यहां आने के बाद उसने जांच नहीं कराई। 10 जून काे उसे और मां काे बुखार आया। अगले दिन 104 हेल्पलाइन पर सूचना दी। टीम ने घर पहुंचकर सैंपल लिए। शनिवार काे दोनों की रिपाेर्ट पाॅजिटिव आई है। इन दाेनाें काे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है। जबकि, पिता और दाेनाें बहनाें काे घर में ही क्वारेंटाइन किया है। ग्राउंड फ्लाेर पर रहने वाले दाे किराएदारों काे मैनिट स्थित क्वारेंटाइन सेंटर भेजा गया है। 

ऐसे हालात से बचना है तो क्या करें 

यदि इस तरह बिना वजह क्वारंटाइन का शिकार होने से बचना है तो बहुत जरूरी है कि अपने आसपास नजर बनाए रखें। यदि कोई व्यक्ति बाहर से आता है तो इसकी सूचना प्रशासन को दें। इतना ही नहीं उस व्यक्ति के परिवार पर सामाजिक रूप से दवा बनाएं कि वह नियमों का पालन करे। महामारी से बचने के लिए लोगों के घरों में और उनकी पर्सनल लाइफ में थोड़ा-बहुत दखल देना पड़ेगा।

14 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

SUSHANT SINGH RAJPUT का शव फांसी पर झूलता मिला, मौत से पहले मां को याद किया
सात फेरे के बाद विदा होकर ससुराल जा रही दुल्हन चंबल नदी में कूदी
INDORE में प्रेमिका से मिलने पाइप के सहारे गर्ल्स हॉस्टल पहुंचा डॉक्टर, गिरकर मौत
INDORE में कांग्रेस विधायकों के सामने घुटने टेकने वाले SDM-CSP हटाए, विधायकों के खिलाफ FIR
GWALIOR में महिला ने कार जला डाली क्योंकि उससे रास्ता जाम होता था
MADHYA PRADESH के राज्यपाल की तबीयत बिगड़ी, मेदांता ICU में भर्ती
थ्री पिन प्लग का पहला पिन शेष दोनों पिन से बड़ा क्यों होता है
गंगाजल कितने समय बाद एक्सपायर हो जाता है
MADHYA PRADESH में SCHOOL जुलाई के महीने में भी बंद रहेंगे: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
MP NEWS: महिला अधिकारी ने दलित कर्मचारी से जूते सैनिटाइज करवाए
स्वस्थ इंसान का हृदय 1 मिनट में कितना खून पंप करता है
रात के समय किसी के घर में चोरी छुपे घुसना किस धारा के तहत अपराध है
पुलिस ने पिता को बेइज्जत किया था, गुस्से में बेटा IPS बन गया
घर के निर्माण में नदी की रेत क्यों यूज़ करते हैं, समुद्र या रेगिस्तान की क्यों नहीं
BHOPAL में नीम की पत्तों से कोरोना संक्रमण, सरकारी नल से पूरे मोहल्ले में महामारी
MADHYA PRADESH कोरोना: INDORE 4000 के पार, BHOPAL की थम नहीं रही रफ्तार
ग्वालियर में छात्रों की बेमियादी भूख हड़ताल, जनरल प्रमोशन के लिए
KAMAL NATH के सबसे नजदीकी विधायक कोरोना पॉजिटिव


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here