Loading...    
   


प्रमुख सचिव ने कलेक्टरों को लिखा: कोरोना हेतु आँगनवाड़ी केन्द्रों का उपयोग मत करना / MP NEWS

भोपाल। प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण श्री फैज अहमद किदवई ने सभी कलेक्टरों को निर्देशित किया है कि प्रदेश के आँगनवाड़ी केन्द्रों पर फीवर क्लीनिक अथवा कोविड-19 की गतिविधियों का संचालन नहीं किया जायेगा।

श्री किदवई ने कहा है कि कोविड-19 से संक्रमित मरीज के थूक के कणों से दो मीटर के भीतर सम्पर्क में आए किसी अन्य व्यक्ति को संक्रमित कर सकती है। प्रदेश में संचालित किसी भी आँगनवाड़ी में कोविड-19 संबंधी गतिविधियां, फीवर क्लीनिक का संचालन या सेम्पलिंग कार्य के लिये आँगनवाड़ी सह-आरोग्य केन्द्र का उपयोग न किया जाये। 

श्री किदवई ने कहा कि भारत सरकार की गाईडलाइन के अनुसार गर्भवती महिलाएँ और 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चे हाईरिस्क की श्रेणी में चिन्हित किए गए हैं। आँगनवाड़ी का उपयोग सिर्फ महिला बाल विकास विभाग के अन्तर्गत चिन्हित टीकाकरण, स्वास्थ्य सेवाएँ पोषण आहार वितरण आदि के लिए ही किया जाए।

29 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

बादल नीचे क्यों नहीं गिरते जबकि वह पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण में होते हैं
नौतपा में ऐसा क्या होता है तापमान अचानक आउट ऑफ कंट्रोल हो जाता है
रेलवे काउंटर से प्राप्त रिजर्वेशन टिकट पर यात्री का नाम क्यों नहीं होता
हीटर से आग पैदा होती है तो उसकी डोरी क्यों नहीं जलती
पैडमेन की एक्ट्रेस प्रेक्षा मेहता ने इंदौर में सुसाइड किया
MP में कॉलेज की परीक्षा तारीख तय, जनरल प्रमोशन नहीं
ज्योतिरादित्य सिंधिया भोपाल आ रहे हैं, पढ़िए क्या धमाका करेंगे
मध्यप्रदेश में स्कूल और कॉलेज के स्टूडेंट्स परीक्षा देने को तैयार नहीं
कोरोना के कारण मध्य प्रदेश मंत्रिमंडल विस्तार पर ग्रहण!
मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव जीतने कमलनाथ ने यह रणनीति बनाई है
चुंबकीय क्षेत्र कमजोर हो गया, क्या पृथ्वी पर भी लोग चांद की तरह उड़ने लगेंगे, पढ़िए
घोड़ा सोता क्यों नहीं, हमेशा खड़ा क्यों रहता है, बैठता क्यों नहीं
संबित पात्रा कोरोना संदिग्ध, मेदांता हॉस्पिटल में भर्ती
पापा अपनी पत्नी को कहना रोने का नाटक ना करें, लिखकर 12वीं की छात्रा ने सुसाइड कर लिया
कर्मचारी से घटिया मशीन चलवाना अपराध है, कंपनी मालिक जेल जाएगा, पढ़िए
गुना में थाना प्रभारी के खिलाफ नाबालिग लड़की के अपहरण और रेप का आरोप
मध्यप्रदेश में अतिथि शिक्षकों को नौकरी से निकाल दिया, अब ईंटें ढो रहे हैं
कमलनाथ के खिलाफ SC-ST ACT के तहत मामला दर्ज करने हेतु आवेदन 


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here