Loading...    
   


कोरोना के डर से एयरफोर्स कर्मचारी ने आत्महत्या कर ली / GWALIOR NEWS

ग्वालियर। शनिवार को महाराजपुरा एयरफोर्स स्टेशन के कर्मचारी ने किराए के घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। मृतक होम आइसोलेशन में था। महाराजपुरा थाना पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

सर्दी, खांसी थी, डॉक्टरों ने करोना संदिग्ध बताकर डरा दिया

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मामला डीडीनगर क्षेत्र स्थित न्यू हिल्स व्यू कॉलोनी का है। दिलीप (36) पिता श्रीराम निवासी रोहतक रोड ,अबेडकर चौक खरखौदा सोनीपत का निवासी था। वह जीबी (एएफ) महाराजपुरा एयरफोर्स में कार्यरत था। पिछले कुछ दिनों से उसे सर्दी, खांसी और जुकाम था। डॉक्टर को जब उसने चेकअप कराया तो बताया गया कि आप कोरोना वायरस के सस्पेक्ट हो इस कारण मृतक को एहतियात के तौर पर उसे 14 दिन के लिए होम आइसोलेशन में रखने की सलाह दी गई थी।

होम आइसोलेशन में था, डर और तनाव के कारण सुसाइड कर लिया

जानकारी अनुसार दिलीप कई दिनों से होम आइसोलेशन में था, लेकिन उसके मन में यह बैठ गया था कि उसे कोरोना वायरस कैसे हो गया है। इसको लेकर वह तनाव में था। अलसुबह के समय उसने चादर को फंदा बनाया और लटककर अपनी जान दे दी। काफी देर तक वह अपने कमरे से बाहर नहीं आया तो मकान मालिक ने दरवाजा बंद देखा तो आशंका हुई। कुछ देर बाद जब दरवाजा खोला गया तो वह फांसी के फंदे पर लटक रहा था। इसकी सूचना तुरंत ही पुलिस को दी गई। बताया गया कि कोरोना से संक्रमित होने की आशंका से संभवत: उसने आत्मघाती कदम उठाया होगा। बहरहाल, पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का सही कारण पता चल सकेगा।

डॉक्टरों ने डराया, प्रशासन ने दवाब बनाया, ढांढस किसी ने नहीं बंधाया

मृतक ने बाकायदा एक पेज का सुसाइड नोट कुर्सी पर रखकर छोड़ा है। भावनात्मक रूप से इसमें लिखा गया है कि मुझे नहीं पता कि कोरोना है या नहीं ,लेकिन मैं किसी की आजादी नहीं छिनना चाहता हूं। इसमें मेरी कोरोना टेस्ट के लिए ट्रेवल हिस्ट्री मांगी है। भले ही आदमी अपने शहर में है। वहीं प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग दिखावा कर रहा है। मृतक ने लिखा है कि मेरी अस्थियां मेरे गुरु के आश्रम में भेज दी जाएं।

सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पंचनामा कार्रवाई की। इसके बाद लाश को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। उधर प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के कई अधिकारियों से बात की गई तो सभी ने चुप्पी साध ली।



03 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

हवा फेंकने वाला पंखा गंदा क्यों हो जाता है, जबकि हवा से धूल साफ होती है 
रसोई गैस सिलेंडर का रंग लाल क्यों होता है, क्या इससे खाना पकाना खतरनाक है, यहां पढ़िए 
सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्री प्रद्युम्न सिंह के बेटे का हाईप्रोफाइल ड्रामा VIDEO वायरल 
नाई को घर बुलाकर कटिंग/सेविंग कराने वालों के खिलाफ FIR होगी: कलेक्टर 
मध्यप्रदेश: कोरोना 33वें जिले में पहुंचा, बुरहानपुर और मंदसौर गंभीर, उज्जैन मौत का घर 
मध्यप्रदेश में केंद्रीय गाइडलाइन लागू होगी या नहीं: सीएम शिवराज सिंह के निर्देश जारी
कमलनाथ के खास विधायक सुरेंद्र सिंह सहित 17 लोगों में कोरोनावायरस का इन्फेक्शन 
रेंट एग्रीमेंट 11 महीने के लिए क्यों होता है, 6 या 12 महीने का क्यों नहीं होता 
ज्योतिरादित्य सिंधिया के कारण दीपक बावरिया से इस्तीफा लिया, मुकुल वासनिक नए प्रभारी
मुरैना में चली बंदूकें, 2 की मौत, 16 घायल, 1 गंभीर 
लॉकडाउन में शादी के लिए छूट, इन नियमों का पालन करना होगा 
छत पर चला रहा था सैलून, ड्रोन ने पकड़ा, मकान मालिक और नाई गिरफ्तार 
मध्यप्रदेश में शराब की दुकानें खोलने की तैयारी, हाई कोर्ट में कैविएट दाखिल 
लॉकडाउन 3.0: ऑरेंज ज़ोन में यात्रा परिवहन के बारे में केंद्रीय गृहमंत्रालय की गाइडलाइन
अपराध या भ्रष्टाचार की झूठी जानकारी देने का मामला IPC की किस धारा के तहत दर्ज होगा, कितनी सजा मिलेगी 
लॉकडाउन 3.0: पूरे भारत में शराब, पान मसाला और तम्बाकू के लिए छूट 
कोरोना के साथ जीना पड़ेगा, यह खत्म नहीं होने वाला: अरविंद केजरीवाल 
मजदूरी या वेतन में से नियम विरुद्ध कटौती के खिलाफ FIR दर्ज करवा सकते हैं


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here