Loading...    
   


भोपाल में सर्दी, खांसी, बुख़ार के लिए 8 अस्पताल आरक्षित / BHOPAL NEWS

भोपाल। कलेक्टर श्री तरुण पिथौड़े के निर्देश पर भोपाल में आमजनों के लिए चिकित्सा व्यवस्था के लिये सर्दी, खांसी और बुखार के मरीजो के लिए 8 अस्पतालों और उनके अधीनस्थ अस्पतालों में जांच शुरू करने के निर्देश जारी किए गए है।

कलेक्टर ने बताया कि इन सभी अस्पतालो में सर्दी, खांसी, बुख़ार के मरीजो की जांच और इलाज किया जाएगा इसके लिए अलग से ओपीडी शुरू की जाएगी। इन अस्पतालो में डॉक्टर से सलाह ले सकते है और अपना परीक्षण कराए, आवश्यकता होने पर उनका स्वैप टेस्ट सेम्पल भी लिया जाएगा। इन सभी चिकित्सालयों में ईएलआई (influenza like illness) के पीड़ितों की जांच, उपचार एवं सैंपल कलेक्शन कि व्यवस्था की गई है।

इस संबंध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा जारी आदेश में गांधी चिकित्सालय विश्वविद्यालय/ हमीदिया अस्पताल, मुख्य चिकित्सा अधिकारी गैस राहत कस्तूरबा चिकित्सालय, रेलवे चिकित्सालय, ईएसआई चिकित्सालय, चिकित्सालय और सिविल अस्पताल बैरागढ़ भोपाल को उनके अधीनस्थ चिकित्सालयो में ईएलआई (influenza like illness) के पीड़ितों की जांच उपचार एवं सैंपल कलेक्शन के संबंध में आवश्यक निर्देश जारी किए गए है।


03 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

हवा फेंकने वाला पंखा गंदा क्यों हो जाता है, जबकि हवा से धूल साफ होती है 
रसोई गैस सिलेंडर का रंग लाल क्यों होता है, क्या इससे खाना पकाना खतरनाक है, यहां पढ़िए 
सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्री प्रद्युम्न सिंह के बेटे का हाईप्रोफाइल ड्रामा VIDEO वायरल 
नाई को घर बुलाकर कटिंग/सेविंग कराने वालों के खिलाफ FIR होगी: कलेक्टर 
मध्यप्रदेश: कोरोना 33वें जिले में पहुंचा, बुरहानपुर और मंदसौर गंभीर, उज्जैन मौत का घर 
मध्यप्रदेश में केंद्रीय गाइडलाइन लागू होगी या नहीं: सीएम शिवराज सिंह के निर्देश जारी
कमलनाथ के खास विधायक सुरेंद्र सिंह सहित 17 लोगों में कोरोनावायरस का इन्फेक्शन 
रेंट एग्रीमेंट 11 महीने के लिए क्यों होता है, 6 या 12 महीने का क्यों नहीं होता 
ज्योतिरादित्य सिंधिया के कारण दीपक बावरिया से इस्तीफा लिया, मुकुल वासनिक नए प्रभारी
मुरैना में चली बंदूकें, 2 की मौत, 16 घायल, 1 गंभीर 
लॉकडाउन में शादी के लिए छूट, इन नियमों का पालन करना होगा 
छत पर चला रहा था सैलून, ड्रोन ने पकड़ा, मकान मालिक और नाई गिरफ्तार 
मध्यप्रदेश में शराब की दुकानें खोलने की तैयारी, हाई कोर्ट में कैविएट दाखिल 
लॉकडाउन 3.0: ऑरेंज ज़ोन में यात्रा परिवहन के बारे में केंद्रीय गृहमंत्रालय की गाइडलाइन
अपराध या भ्रष्टाचार की झूठी जानकारी देने का मामला IPC की किस धारा के तहत दर्ज होगा, कितनी सजा मिलेगी 
लॉकडाउन 3.0: पूरे भारत में शराब, पान मसाला और तम्बाकू के लिए छूट 
कोरोना के साथ जीना पड़ेगा, यह खत्म नहीं होने वाला: अरविंद केजरीवाल 
मजदूरी या वेतन में से नियम विरुद्ध कटौती के खिलाफ FIR दर्ज करवा सकते हैं


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here