Loading...    
   


शिवपुरी: मजार में 1 महीने से छुपे तीन मुस्लिम पकड़े | MP NEWS

ललित मुद्गल। मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले की नरवर तहसील में स्थित एवं स्थानीय लोगों की श्रद्धा का केंद्र प्राचीन मजार में करीब 1 महीने से छुपे हुए मुस्लिम समाज के तीन लोगों को पुलिस ने आज खोज निकाला। इनमें से 2 लोग गुजरात के और एक उत्तर प्रदेश से है। पुलिस ने इनकी देखरेख कर रहे मजार के संयोजक एवं उसके सहयोगी को भी सूचीबद्ध किया है। सभी को क्वॉरेंटाइन के लिए पाबंद किया गया है। नरवर पुलिस वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश की प्रतीक्षा कर रही है। 

थाना प्रभारी प्रियंका पांडे ने बताया कि हाली वाली तकिया मजार क्षेत्र में अशरफ बाबा और उसके पिता शेख नसरूदीन निवासी अहमदाबाद गुजरात, और इमरान राइन निवासी महोबा उत्तर प्रदेश को पकड़ा गया है। इनके अलावा दो स्थानीय युवक कल्लू पुत्र शिवचरण कोली और शब्बीर पुत्र बरकत शाह को भी दस्तावेजों में सूचीबद्ध किया गया है। यह कार्रवाई इसलिए की गई क्योंकि कोरोनावायरस का संक्रमण रोकने के लिए भारत सरकार ने लॉक डाउन घोषित है। प्रोटोकॉल के अनुसार कोई भी व्यक्ति ना तो बाहर से अंदर आ सकता है नाही शहर से बाहर जा सकता है। इसके अलावा यदि कोई बाहरी नागरिक शहर में है तो उसे अपने होने की सूचना प्रशासन को देनी होगी। इन तीनों नागरिकों ने अपनी उपस्थिति की सूचना नहीं दी। दोनों स्थानीय युवकों ने भी तीनों नागरिकों की उपस्थिति को छुपाए रखा।

पूछताछ में बताया है कि 20 मार्च को अशफाक बाबा उम्र 23 वर्ष अपने पिता शेख नसरूदीन उम्र 48 वर्ष के साथ नरवर आए थे। उसी दिन उत्तर प्रदेश के महौबा निवासी इमरान राईन उम्र 21 वर्ष भी नरवर पहुंचा। जहां तीनों हाली वाली तकिया क्षेत्र में स्थित मजार पर रुके। तीनों के रहने खाने का इंतजाम मजार के संयोजक शब्बीर एवं उनके सहयोगी कल्लू कोली ने किया था। पिछले 25 दिनों से तीनों बाहरी नागरिक नरवर में रुके हुए हैं।

बड़ा सवाल: जमाती नहीं तो कौन है 

थाना प्रभारी प्रियंका पांडे का कहना है कि तीनों ने पूछताछ में बताया है कि उनका मरकज निजामुद्दीन से कोई रिश्ता नहीं है। सवाल यह है कि यदि तीनों मुस्लिम नागरिक तबलीगी जमात के नहीं है तो फिर नरवर में क्या करने आए हैं और 25 दिनों से मजार में क्यों छुपे हुए थे। हर सवाल का जवाब जरूरी है क्योंकि या तो वह महामारी से जुड़ा है या फिर लोगों की सुरक्षा से। देखते हैं कलेक्टर एवं एसपी शिवपुरी इस मामले में क्या कदम उठाते हैं।

15 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

क्या आपको पता है डॉ. आम्बेडकर के नीले कोट का रहस्य, यहां पढ़िए
लॉक डाउन: मध्य प्रदेश के 14 जिलों में राहत, 29 जिलों में लॉकइन की संभावना
बंदूक की गोली में यदि माचिस से आग लगाएं तो क्या होगा
लॉक डाउन बढ़ गया, IPL-13 कब होगा, यहां पढ़िए 
चलती ट्रेन में उड़ती मक्खी दीवार से क्यों नहीं टकराती, यहां पढ़िए 
मध्यप्रदेश में भीषण गर्मी शुरू, खरगोन से होशंगाबाद तक लू का कहर 
पुरानी बाइक का पिकअप कम क्यों हो जाता है 
किसान सावधान! पश्चिम से काली घटाएं उठ रही हैं, बारिश होगी 
एक सब इंजीनियर की सेवा समाप्त, दूसरा सस्पेंड, चार का वेतन राजसात 
मप्र में शराब और भांग की दुकानें 21 अप्रैल से खुलेंगी 
कमलनाथ की दलीलें खारिज, सुप्रीम कोर्ट में केस हार गए, योग्यता पर सवाल 
मध्य प्रदेश: 127 पॉजिटिव, इंदौर 98, भोपाल 20, कुल 23 जिले संक्रमित, 7 में सुधार
20 अप्रैल के बाद सशर्त छूट-छाट दी जा सकती है, लॉकडाउन 3 मई तक रहेगा: प्रधानमंत्री 
छिंदवाड़ा मीटिंग में कमलनाथ के PA की मौजूदगी पर हंगामा (वीडियो देखें) 
देश लॉकडाउन, सीमाएं सील, फिर भी कुत्ते सहित इंदौर से ग्वालियर पहुंचा पूरा परिवार
ज्योतिरादित्य सिंधिया पर जमकर तंज कस रहे हैं लोग, बॉलीवुड ने भी चुटकी ली 
भोपाल में ऑनड्यूटी पुलिस वाले ने खुद को गोली मारी


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here