Loading...    
   


स्वयंवर वाटिका के गार्ड ने शादी में पटाखा चला रहे लड़के के सिर में गोली मार दी, मौत | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। बहोड़ापुर थाना क्षेत्र के रामाजी का पूरा स्थित स्वयंवर वाटिका के गार्ड ने शादी समारोह में आतिशबाजी के लिए पटाखा चला रहे एक युवक के सिर में गोली मार दी। युवक की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने गार्ड को अरेस्ट कर लिया है। पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हुई है। मृत युवक कॉलेज स्टूडेंट था और पढ़ाई का खर्चा निकालने के लिए मेडीकल की दुकान पर काम करता था। वो अपने दोस्त की बहन की शादी में आया था। 

घटना बहोड़ापुर थाना क्षेत्र के रामाजी का पूरा स्थित स्वयंवर वाटिका की है। घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने गार्ड की मारपीट कर दी। घटना का पता चलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच के बाद घायल गार्ड को उपचार के लिए भेजकर मृतक का शव पीएम हाउस पहुंचा दिया है। मुरैना निवासी गौरव खटीक (21) पुत्र अशोक खटीक शिन्दे की छावनी स्थित खटीक मोहल्ला में मामा बलराम के घर रहकर पढ़ाई और मेडिकल स्टोर पर काम करता है मेडिकल स्टोर पर उसके साथ ही मोहसिन खान भी काम करता है। मोहसिन की बहन नाजिया की शादी का कार्यक्रम रामाजी का पूरा स्थित स्वयंवर वाटिका में आयोजित हो रहा था। 

यहां पर गौरव भी शादी में शामिल होने आया था रात करीब 2 बजे गार्डन में जब स्टेज कार्यक्रम चल रहा था, इसी बीच बारातियों ने गार्डन में पटाखे चलाने शुरू कर दिए। पटाखे चलाते देखकर वहां पर सुरक्षा के लिए तैनात गार्ड श्याम सिंह तोमर वहां पहुंचा और पटाखे चलाने से मना किया, इस पर उसका विवाद होने लगा। इसी बीच गार्ड ने पानी लाकर पटाखों पर डाल दिया। पानी डालते ही विवाद बढ़ा तो गार्ड ने अपनी लायसेंसी रायफल उतार कर फायर ठोक दिया। रायफल से निकली गोली वहीं पर खड़े गौरव के सिर में लगी और वह वहीं पर ढेर हो गया। 

गौरव को गोली लगते देखकर विवाह समारोह में मौजूद लोगों ने गार्ड की मारपीट कर दी। इसी बीच पुलिस भी मौके पर पहुंची और घायल गार्ड को उपचार के लिए भेज कर मृतक का शव पीएम हाउस भेज दिया। बताया गया है कि मृतक दो भाई हैं और गौरव बड़ा तथा उससे छोटा मयंक है। कुछ साल पहले गौरव की मां की ट्रेन से कटकर मौत हुई थी। बचपन से ही गौरव मामा के पास रहकर पढ़ाई और मेडिकल स्टोर पर काम करता था।

मृतक के मामा हरीशचन्द्र खटीक निवासी खटीक ने बताया कि गौरव मेरा भांजा था और मेरे घर पर बचपन से रह रहा था। एमएलबी कॉलेज में वह प्रथम वर्ष का छात्र था। हमें तीन बजे घटना की जानकारी लगी। पुलिस ने एफआईआर करने में बहुत देरी की है। 

सीसीटीवी में रिकार्ड हुई पूरी घटना
पूरी घटना की सीसीटीवी रिकार्डिग वाटिका में लगे कैमरों में हो गई है। शुक्रवार को पुलिस की एक टीम वाटिका में गई और सीसीटीवी में कैद हुई घटना को देखा। इसकी रिकार्डिंग को अपने कब्जे में लिया।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here