Loading...    
   


मुंबई में कोरोनावायरस से देश के प्रसिद्ध सर्जन की मौत | CORONA LATEST NEWS

मुंबई। कोरोना वायरस के कारण मुंबई में स्थित सैफी अस्पताल के उस सुप्रसिद्ध सर्जन की मौत हो गई जिन्होंने दुनिया की सबसे ज्यादा वजन वाली महिला इमाम की वेट लॉस सर्जरी की थी। डॉक्टर की उम्र 85 वर्ष थी। उनका बेटा भी डॉक्टर है एवं जांच के दौरान कोरोनावायरस पॉजिटिव पाया गया है। याद दिलाने की मुंबई में कोरोनावायरस के संक्रमण की खतरनाक स्थिति है। यहां सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं।

कोरोना वायरस के कारण सैफी अस्पताल सील

पिछले 24 घंटे में राज्य में 27 नए मामले आए हैं। मुंबई में ही 25 नए मामलों की पुष्टि हुई। अधिकारियों के मुताबिक, 85 वर्षीय डॉक्टर ने 5 लोगों का ऑपरेशन किया था। इन सभी को अब ऑब्जर्वेशन में रखा जाएगा। अस्पताल को सील कर दिए जाने के बाद अब अगले 14 दिनों तक यहां ओपीडी बंद रहेगी और कोई भी नया मरीज भर्ती नहीं किया जाएगा। अभी इस अस्पताल में जो भी मरीज भर्ती हैं, उनमें से गंभीर मरीजों को आसपास से प्राइवेट हॉस्पिटल में शिफ्ट किया जाएगा। 

सर्जन के डॉक्टर बेटे और पोते में भी कोरोनावायरस पॉजिटिव

डॉक्टर के परिवार के दो लोग हाल ही में इंग्लैंड से लौटे थे। डॉक्टर के बेटे और पोते में भी कोरोना की पुष्टि हुई है। दोनों को कस्तूरबा हॉस्पिटल में भर्ती किया गया है। उनके बेटे भी हॉस्पिटल में डॉक्टर हैं। डॉक्टर को गुरुवार को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। कोरोना की पुष्टि होने के बाद उन्हें दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किया गया। जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी। स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि डॉक्टर को डायबिटीज थी। पेसमेकर भी लगा था। चूंकि मरीज में कोरोना की पुष्टि एक निजी लैब में हुई थी। इसलिए राज्य सरकार ने एक बार और कोरोना जांच कराई, जिसमें संक्रमण की पुष्टि हुई।

मुंबई में हर घंटे 2 से ज्यादा कोरोनावायरस के मामले

शनिवार को मुंबई में संक्रमण के 25 नए मामले सामने आए हैं। इसे मिलाकर मुंबई में संक्रमितों की संख्या 90 तक पहुंच गई। वहीं, राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या शनिवार शाम तक 180 तक पहुंच गई।

कोरोना संक्रमित सभी मृतकों को डायबिटीज थी

महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमित छह लोगों की मौत हो चुकी है। सभी को डायबिटिज की शिकायत थी। इससे पहले गुरुवार-शुक्रवार की रात को कस्तूरबा हॉस्पिटल में भर्ती एक 65 वर्षीय महिला की मौत हुई थी। महिला को बीपी और डायबिटीज की शिकायत भी थी। गोवंडी की रहने वाली एक 65 साल की महिला का निधन कोरोना के चलते हुआ था। महिला की मौत 24 तारीख को हुई और वह 26 मार्च को आई रिपोर्ट में कोरोना की पुष्टि हुई। राज्य में सबसे पहले 17 मार्च को 64 साल के कोरोना पॉजिटिव बुजुर्ग की मौत हुई। 21 मार्च को 69 साल के कोरोना संदिग्ध बुजुर्ग की मौत हुई। बाद में उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद 24 मार्च को 63 साल की महिला की डायबिटीज से मौत हुई थी। राज्य में अब तक छह लोगों को कोरोना संक्रमण से मौत हुई है, सभी को डायबिटिज की शिकायत थी।

28 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़ी गईं खबरें

CRPC की धारा 144 का उल्लंघन करने पर IPC की धारा 188 के तहत FIR क्यों होती है
'पास आउट' का सही अर्थ, 'अकॉर्डिंग टू मी' का मतलब क्या होता है 
टोटल लॉक-डाउन में पैसा कैसे कमाए, यहां पढ़िए 
VVIP कारों की प्लेट पर नंबर क्यों नहीं होते, कोई लॉजिक है या अकड़ दिखाने के लिए, पढ़िए
यदि पेट्रोल को इंडक्शन कुकर पर उबाला जाए तो क्या होगा, पढ़िए 
MP VIMARSH PORTAL 9th-11th EXAM RESULT DIRECT LINK यहां देखें
मध्यप्रदेश में शराब की दुकान मामले में शिवराज सिंह का यू-टर्न 
CORONA को खत्म करने महुआ के पेड़ से देवी प्रकट हुई, अफवाह उड़ी, मेला लगा, प्रशासन सोता रहा 
मप्र लॉकडाउन: कलेक्टर/एसपी के नाम संशोधित गाइडलाइन
मध्य प्रदेश कोरोना बुलेटिन: इंदौर-उज्जैन गंभीर, भोपाल-शिवपुरी चिंताजनक, जबलपुर-ग्वालियर कंट्रोल


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here