ग्राम पंचायत सहायकों ने कोरोना पीड़ितों के लिए 2 दिन का वेतन दिया | EMPLOYEE NEWS
       
        Loading...    
   

ग्राम पंचायत सहायकों ने कोरोना पीड़ितों के लिए 2 दिन का वेतन दिया | EMPLOYEE NEWS

भोपाल। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग मध्य प्रदेश शासन के अंतर्गत मध्य प्रदेश की करीब 23000 ग्राम पंचायतों में नियुक्त ग्राम रोजगार सहायकों ने कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों के इलाज के लिए 2 दिन का वेतन दान करने का ऐलान किया है। 

ग्राम रोजगार सहायक कर्मचारी संघ की ओर से बताया गया है कि सहायक सचिव संघ द्वारा अपने वेतन से 2 दिन का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने का निर्णय लिया गया है। जिसकी राशी लगभग 1 करोड़ रुपए होती है। शैलेन्द्र चौकसे प्रदेश प्रवक्ता सहायक सचिव संगठन ने बताया कि विश्व में भयानक महामारी कोरोना वायरस के नाम की फैली हुई है जिसको देखते हुए मध्य प्रदेश ग्राम रोजगार सहायक कर्मचारी संघ ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से समस्त 52 जिलों ने यह निर्णय लिया है कि माननीय पूर्व मंत्री श्री रामपाल सिंह जी ठाकुर के नेतृत्व में अपने मानदेय में से दो दिवस का मानदेय माननीय मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कराया जाएगा। 

रोशन सिंह परमार, प्रदेश अध्यक्ष, ग्राम रोजगार सहायक कर्मचारी संघ ने बताया कि सभी पंचायत सहायकों का 2 दिन का वेतन करीब ₹10000000 होता है। यह पैसा मनरेगा परिषद से सीधे माननीय मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा करने का अनुरोध है।

23 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबरें 

यदि चलती ट्रेन में ड्राइवर बेहोश हो जाए तो क्या होगा, पढ़िए 
क्या ट्रक की तरह ट्रेन को धक्का देकर चालू किया जा सकता है, पढ़िए 
MPPEB NEWS: अप्रैल से जून तक की एंट्रेंस एग्जाम का कैलेंडर जारी
9वीं और 11वीं के विद्यार्थी परीक्षा परिणाम घर से देख सकेंगे 
हवाई जहाज कितना माइलेज देता है, प्रति व्यक्ति ईंधन का खर्चा कितना होता है
दिग्विजय सिंह का दलित एजेंडा रिवर्स मारा गया, राज्यसभा सीट खतरे में 
शिवराज सिंह मंत्रिमंडल के बारे में नरोत्तम मिश्रा का बयान
कोरोना वायरस: ग्वालियर कलेक्टर गाइडलाइन जारी 
मध्य प्रदेश के 39 जिलों में लॉक-डाउन, शिवराज सिंह ने 3 महीने की तैयारी को कहा 
हम फिर से मध्य प्रदेश में सरकार बनाएंगे: कमलनाथ का सोनिया गांधी को वादा