जबलपुर में कोरोना वायरस का 6वां संदिग्ध मिला | JABALPUR NEWS
       
        Loading...    
   

जबलपुर में कोरोना वायरस का 6वां संदिग्ध मिला | JABALPUR NEWS

जबलपुर। कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में आए आभूषण विके्रता के संपर्क में आने वालों पर संक्रमित होने का खतरा बढ़ता जा रहा है। दरअसल, उसकी दुकान का एक और कर्मचारी (45) कोरोना संक्रमित पाया गया है। जिसके चलते जिले में वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 5 से बढ़कर 6 पहुंच गई है। 

मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती आभूषण कारोबारी को ऑक्सीजन पर रखा गया है। इधर, संजीवनी नगर निवासी एक संदिग्ध सोमवार रात विक्टोरिया से भाग गया था लेकिन फिर वापस लौट आया। रविवार को आभूषण विक्रेता की दुकान के सेल्समैन की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। सोमवार को विक्टोरिया अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती 3 संदिग्धों के थ्रोट स्वाब के नमूने जांच के लिए एनआईआरटीएच भेजे गए थे। शाम को जारी की गई रिपोर्ट में आभूषण दुकान का कर्मचारी पॉजिटिव पाया गया, जिसके बाद उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल के क्वारंटाइन वार्ड के लिए रेफर किया गया।

तीनों संदिग्ध आभूषण विक्रेता के संपर्क में थे। इधर, विक्टोरिया व सुखसागर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 13 संदिग्धों को आइसोलेट किया गया है। तो वहीं रविवार को रिपोर्ट निगेटिव मिलने के बाद सुखसागर में आइसोलेट 17 संदिग्धों को इस हिदायत के साथ घर भेजा दिया गया कि वे आगामी दिनों तक बाहर नहीं निकलेंगे।

सोशल मीडिया पर अफवाह

कोरोना पॉजीटिव पाए गए 6 मरीज को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं। सोशल मीडिया में अफवाह फैलाई जा रही है कि कोरोना पॉजिटिव वाला छठवां व्यक्ति बरेला देवरी पटपरा गांव का निवासी है। उसने गांव में जाकर बहुत से लोगों से मुलाकात की। यहां तक कि कुछ घरों में जाकर बैठकें की। लेकिन मरीज के परिचितों का कहना है कि वह पिछले 10 साल से जबलपुर के तुलाराम क्षेत्र में किराये के मकान में रहता है, गांव में सिर्फ उसके माता-पिता रहते हैं। मरीज की मझौली में शादी हुई है, वह मझौली गया है कि नहीं इस बारे में जानकारी नहीं है।

परिचितों ने बताया कि मरीज होली के समय गांव आया था परंतु माता-पिता से मिलकर वह लौट गया था। बताया जा रहा है देवरी पटपरा निवासी एक युवक पर कोरोना पॉजीटिव पाए जाने के बाद आसपास के ग्रामीण इलाकों में दहशत का माहौल है। ग्रामीण क्षेत्रों में यह भी अफवाह फैलाई गई थी कि और भी लोग कोरोना पॉजीटिव है परंतु वह डर से यह बात छिपा रहे हैं।