गर्लफ्रेंड के लिए भोपाल जेल में खूनी संघर्ष, मुन्ना रेडियो सहित 10 घायल | BHOPAL NEWS
       
        Loading...    
   

गर्लफ्रेंड के लिए भोपाल जेल में खूनी संघर्ष, मुन्ना रेडियो सहित 10 घायल | BHOPAL NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल स्थित सेंट्रल जेल में गर्लफ्रेंड के लिए जुबेर मौलाना गिरोह और मुन्ना रेडियो गिरोह के बीच खूनी संघर्ष हो गया। जुबेर मौलाना गिरोह के लोगों ने मुन्ना रेडियो और उसके साथियों पर हमला कर दिया। इस खूनी संघर्ष में कुल 10 लोग घायल हुए हैं। घायलों में मुन्ना रेडियो भी शामिल है। सूत्रों का कहना है कि जुबेर मौलाना की गर्लफ्रेंड जेल में मुन्ना रेडियो से मिलने आती थी। जब जुबेर मौलाना को इसकी खबर लगी तो उसने अपने । के माध्यम से मुन्ना रेडियो पर जानलेवा हमला करवा दिया।

चम्मच और दरवाजे की चादरों से धारदार हथियार बनाए

राजधानी की सेंट्रल जेल के अ-खंड में सोमवार सुबह 11:30 बजे बंदियों के दो गुटों के बीच खूनी संघर्ष हो गया। कैदियों ने जिन धारदार हथियारों का इस्तेमाल किया वे चम्मच और लोहे के टूटे हुए दरवाजों की चादर से बनाए गए थे। याद दिला दें कि इससे पहले भी इसी सेंट्रल जेल में टूथब्रश की चाबी बनाकर ताला जेल बैरक का ताला खोल लिया गया था।

जुबेर की गर्लफ्रेंड मुन्ना से मिलने आती थी

जेल सूत्रों का कहना है कि जुबेर मौलाना की गर्लफ्रेंड इन दिनों मुन्ना रेडियो के संपर्क में है। गर्लफ्रेंड की मुन्ना रेडियो से दोस्ती जुबेर को नागवार गुजर रही है। जेल के खंड-ब में बंद जुबेर मौलाना ने खंड-अ में बंद अपने गुर्गों शाहरुख एवं अन्य को मुन्ना रेडियो को सबक सिखाने के आदेश दिए थे।

खूनी संघर्ष में कुल 10 कैदी घायल, सभी अस्पताल में

एक गुट के 6 बदमाश मोहम्मद दानिश, दीपक उर्फ दीपू, शाहिद उर्फ राजा उर्फ बच्चा, शाहरुख, मोहम्मद अरबाज उर्फ राजा और रवि ने खंड-अ में बंद मुन्ना रेडियो, यासिन मजिस्ट्रेट, फैजउद्दीन और गीता प्रसाद पर धारदार हथियारों से हमला कर दिया। दूसरे पक्ष के चारों बदमाशों ने भी बचाव में हमला कर दिया। जेल प्रबंधन ने तत्काल दोनों पक्षों के बंदियों को काबू किया। दोनों गुटों के घायल हुए दस बंदियों को जेल अस्पताल में भर्ती कराया है। जिसमें मुन्ना रेडियो को टांके आए हैं।

कड़ी सुरक्षा के बाद भी जेल में हो रही वारदात

सिमी आतंकियों द्वारा सेंट्रल जेल ब्रेक करने की घटना के बाद से जेल के बाहर और अंदर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। जेल की बैरकों की समय-समय पर सर्चिंग की जाती है। बंदियों पर नजर रखने के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं,  इसके बाद भी बदमाशों द्वारा बर्तनों से हथियार बनाकर छिपाकर रखे जाते हैं। 25 जनवरी की सुबह भी अ-खंड में एक बंदी शाहरुख खान ने शादाब के चेहरे पर धारदार पत्ती से हमला कर दिया था। पत्ती शादाब के चेहरे और गर्दन में लगी है।

जुबेर मौलाना को कोर्ट से जमानत मिली क्राइम ब्रांच ने हिरासत में लिया

जिला बदर मामले में सेंट्रल जेल में बंद जुबेर मौलाना को मंगलवार की शाम कोर्ट से जमानत मिलने के बाद रिहा कर दिया। रिहा होते ही क्राइम ब्रांच की टीम ने उसे अन्य मामलों में पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है।