Loading...

नागरिकता संशोधन कानून पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आधिकारिक बयान | PM MODI OFFICIAL STATMENT @ CAA

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने आश्‍वस्‍त किया है कि नागरिकता संशोधन कानून से कोई भारतीय नागरिक प्रभावित नहीं होगा। उन्‍होंने आज लोकसभा में राष्‍ट्रपति के अभिभाषण पर धन्‍यवाद प्रस्‍ताव का जवाब देते हुए यह बात कही। नागरिकता संशोधन कानून पर विस्‍तार से बोलते हुए प्रधानमंत्री ने सदन को आश्‍वस्‍त किया कि इस कानून का देश के किसी भी नागरिक पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में इस कानून पर पूर्ववर्ती सरकार के रूख का भी जिक्र किया और कहा कि पिछली सरकार भी ऐसा ही कानून लाने के हक में थी। उन्‍होंने पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू का हवाला देते हुए कहा कि वह पड़ोसी देशों के अल्‍पसंख्‍यकों को भारत में शरण देने के लिए नागरिकता कानून में संशोधन के हक में थे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कुछ राजनीतिक दल देश में विभाजन के पाकिस्‍तानी एजेंडो को आगे बढ़ा रहे हैं। उन्‍होंने कहा “मैं यह स्‍पष्‍ट कर देना चाहता हूं कि नागरिकता संशोधन कानून के लागू होने से कोई भी भारतीय नागरिक चाहे वह किसी भी धर्म या सम्‍प्रदाय का हो, प्रभावित नहीं होगा।’’ 
प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का यह बयान प्रधानमंत्री कार्यालय से जारी किया गया है।