मंडला में तीन कर्मचारी जिंदा जल गए, मौत | MP NEWS
       
        Loading...    
   

मंडला में तीन कर्मचारी जिंदा जल गए, मौत | MP NEWS

भोपाल। मध्यप्रदेश के मंडला जिले में कान्हा नेशनल पार्क में तैनात वन विभाग के 3 कर्मचारी रोड एक्सीडेंट का शिकार हो गए। हादसा इतना भयंकर था कि तीनों कर्मचारी जिंदा जल गए। घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई। 

यह सड़क हादसा जबलपुर-रायपुर नेशनल हाईवे पर अंजनियां गांव के पास हुआ। एक बाइक दो ट्रकों के बीच जा फंसी। बताया जा रहा है वाहनों की रफ्तार तेज़ थी। टक्कर इतनी ज़ोर से हुई कि बाइक ट्रक में जा घुसी। उस पर कान्हा नेशनल पार्क के गढ़ही बीट के भैसनघाट में पदस्थ तीन कर्मचारी सवार थे। टक्कर होते ही बाइक की पेट्रोल की टंकी फट गयी और उसमें भीषण आग लग गयी। आग इतनी तेज़ी से भड़की कि ट्रक में बुरी तरह फंसी बाइक पर सवार युवकों को संभलने या निकलने का मौका ही नहीं लगा।

आग में घिरी बाइक और युवक

आग की चपेट में आने से तीनों युवक ज़िंदा जल गए। दो ने तो मौके पर ही दम तोड़ दिया जबकि एक की अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में मौत हो गई। फिलहाल अंजनिया थाना मामले की जांच कर रही है। 

कान्हा नेशनल पार्क में ड्यूटी करके लौट रहे थे

तीनों मृतक मंडला जिले के सेमरखापा गांव के रहने वाले बताए जा रहे हैं। मृतकों के नाम दीपक मसराम, बलराम भारतीय और संतोष सिलडेरिया हैं। ये तीनों कान्हा नेशनल पार्क के गढ़ही बीट के भैसनघाट में पदस्थ थे। रोजाना की तरह अपना काम खत्म करके ड्यूटी से लौट रहे थे। 

ओवरटेक करने से हुआ एक्सीडेंट 

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है दो ट्रकों को ओवर टेक करने के चक्कर में ये एक्सीडेंट हुआ। अंजनिया चौकी प्रभारी दुर्गा नगपुरे ने बताया कि अंजनियाँ- माधोपुर के बीच बायपास में मोटरसाइकिल पर सवार तीनो युवक मंडला की ओर जा रहे थे। इसी बीच दूसरी ओर से दो ट्रक सामने से आ रहे थे। दोनों ट्रक चालक ओवरटेक करने की कोशिश कर रहे थे। उसी दौरान इनकी बाइक ट्रकों की चपेट में आ गयी। इस हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई है। इसमें से दो सवार जिंदा जल गए और एक अस्पताल ले जाते वक्त खत्म हो गया।