अतिक्रमण हटाने गए कर्मचारियों के दल पर पथराव, मामला गुब्बारा फाटक का | GWALIOR NEWS
       
        Loading...    
   

अतिक्रमण हटाने गए कर्मचारियों के दल पर पथराव, मामला गुब्बारा फाटक का | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। गुब्बारा फाटक पर अतिक्रमणकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने पहुंचे निगम के मदाखलत अमले पर लोगों ने अतिक्रमण हटाने के खिलाफ पथराव कर दिया। इस दौरान यहां अफरा-तफरी के हालात बन गए। पुलिस को भी पत्थरबाजों से बचने के लिए पीछे हटना पड़ा, लेकिन इस सबके बावजूद कार्रवाई जारी थी और सारे इलाके में जबरदस्त तनाव बना हुआ था। माधव प्लाजा के समीप अवैध रूप से निर्माण किए गए मकानों और दुकानों को तोडऩे पहुचें मदाखलत अमले से कार्रवाई से पहले ही अतिक्रमणकारी भिड़ गए और तोडफ़ोड़ का विरोध करने पर उतर आए, हालांकि इस दौरान तोडफ़ोड़ जारी रही, लेकिन तनाव बना रहा।

सुबह साढ़े ग्यारह बजे प्रशासनिक अधिकारियों के निगम अधिकारी व मदाखलत अमला तोडफ़ोड़ करने के लिए पहुंचा था, जिससे लोगों को इस बात की भनक लग गई थी कि उनके खिलाफ कार्रवाई होगी, जिस पर इन लोगों ने लामबंदी शुरु कर दी। यहां भारी अमले के साथ अधिकारियों व बुल्डोजर पहुंचते ही लोगों ने विरोध जताना शुरु कर दिया, वह तुड़ाई रोकने आगे भी बढ़े, लेकिन मौके पर मौजूद भारी पुलिसबल ने जैसे ही लाठियां दिखाईं, लोग पीछे हट गए और तुड़ाई शुरु कर दी गई, लेकिन लोगों ने अपना रोष जारी रखा और वह तुड़ाई के विरोध में सडक़ पर आ गए। 

पहले कोई नोटिस नहीं दिया गया


तोडफ़ोड़ का विरोध कर रहे लोगों का कहना था कि उन्हे पहले कोई नोटिस नहीं दिया गया, नही उनके द्वारा किया गया निर्माण अवैध है, ऐसे में तुड़ाई रोकी जाए, कुछ लोग इस मुद्दे को लेकर सहायक सिटी प्लानर जादौन से भी सीधे जूझ गए, हालांकि उन्होने कहा कि उन्हे तो आदेश मिला है, यदि कोई शिकायत है तो फिर कमिश्नर और अपर आयुक्त से करें, लेकिन लोग नहीं माने और हंगामा जारी रखा।