नर्मदा गौ-कुंभ: कोई घटना हुई तो मेले में ही FIR दर्ज कराने की सुविधा | NARMADA KUMBH 2020
       
        Loading...    
   

नर्मदा गौ-कुंभ: कोई घटना हुई तो मेले में ही FIR दर्ज कराने की सुविधा | NARMADA KUMBH 2020

जबलपुर। नर्मदा गोकुंभ के दौरान ग्वारीघाट क्षेत्र में चप्पे-चप्पे पर पुलिस जवान तैनात रहेंगे। इसी पर्व के दौरान शहर में पहली बार 6 मेला थाने बनाए जाएंगे जहां किसी प्रकरण की एफआईआर तक दर्ज कराई जा सकेगी। 

जिला पुलिस बल ने पीएचक्यू से 1 हजार अतिरिक्त जवानों, राजपत्रित पुलिस अधिकारियों की मांग की है। पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) भगवत सिंह चौहान ने शनिवार दोपहर पुलिस अधीक्षक अमित सिंह के साथ सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की। उन्होंने बताया कि मेला क्षेत्र में 15 पार्किंग स्थल चिन्हित किए गए हैं। वाहनों को निर्धारित पार्किंग स्थल पर ही खड़ा किया जा सकेगा। नर्मदा किनारे 10 घाट बनाए जा रहे हैं जहां लाखों श्रद्धालु स्नान कर सकेंगे। 

पुलिस अधीक्षक अमित सिंह ने कहा कि 24 फरवरी से 3 मार्च तक होने वाले धार्मिक आयोजनों के लिए जोन तथा अन्य जिलों से 50 राजपत्रित अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। पेशवाई में 600 नागा साधु शामिल होंगे। इस दौरान सुरक्षा तथा यातायात व्यवस्था दुरुस्त की जा रही है। उन्होंने बताया कि यह भी ध्यान रखा जाएगा कि परीक्षा के दौरान विद्यार्थियों को आवागमन तथा शैक्षणिक कार्य में असुविधा का सामना न करना पड़े। 

आयोजन के दौरान नाव के आवागमन को भी रोका जाएगा। पुलिस मुख्यालय से ऐसे अनुभवी अधिकारियों की मांग की गई है जिन्हें जिले की स्थिति का अनुभव हो।