भोपाल: कक्षा 4 के अपहृत बालक का शव झाडियों में मिला, पुलिस पर लापरवाही का आरोप | BHOPAL NEWS
       
        Loading...    
   

भोपाल: कक्षा 4 के अपहृत बालक का शव झाडियों में मिला, पुलिस पर लापरवाही का आरोप | BHOPAL NEWS

भोपाल। शाहजहानाबाद पुलिस थाना क्षेत्र के संजय नगर से 6 दिन पहले किडनैप किए गए कक्षा 4 के बालक की लाश मिली है। बालक के शव पर केवल शर्ट थी। उसका पेंट और जूते दूर रखे हुए थे। बालक का अंग वस्त्र भी उतरा हुआ था। बालक के परिजनों का कहना है कि यदि पुलिस समय रहते कार्रवाई करती तो उनका बच्चा जिंदा होता। पुलिस का कहना है कि शव काफी पुराना है। हत्यारे की तलाश की जा रही है। 

संजय नगर पहाड़िया निवासी परमानंद कनर्जे का सबसे छोटा बेटा पवन उर्फ पुष्पेंद्र चौथी का छात्र था। चाचा विजय ने बताया कि 22 फरवरी को पवन सुबह साढ़े 11 बजे खेलने जाने का कहकर घर से निकला। घर से एक किमी दूर रहने वाले परिचित लालू के घर गया। काफी देर तक घर नहीं लौटा तो शाम 6 बजे उसकी मां रिंकी लालू के घर गई। सवाल किया तो उसकी मां ने कहा कि पवन उनके घर नहीं आया। रात एक बजे तक तलाशने के बाद भी जब वह नहीं मिला तो परिजनों ने शाहजहांनाबाद थाने में अपहरण का केस दर्ज करवाया। पुलिस के साथ परिजन दोबारा लालू के घर पहुंचे। तब उसने कहा कि पवन को मैंने दो बजे घर भेज दिया था। 

हाथ पर गुदे पी से हुई पहचान, शरीर पर केवल टीशर्ट थी

सीएसपी नागेंद्र पटेरिया ने बताया कि बच्चे के शरीर पर केवल टीशर्ट थी। जूते और पेंट शव से दूर रखी थी। शव पूरी तरह डिकंपोज हो चुका है। हाथ के पास पी गुदा है। इसके जरिए उसकी पहचान हो सकी। परिस्थितियां हत्या की ओर इशारा कर रही हैं।

चाचा बोले- आश्वासन ही देती रही पुलिस
विजय का आरोप है कि हमने जिस पर शक जताया, मामूली पूछताछ कर पुलिस ने उसे छोड़ दिया। लाश मिलने से पहले पुलिस यदि इतनी मेहनत कर लेती तो आज मेरे भतीजे की जान बच जाती। 

डीआईजी भोपाल रेंज इरशाद वली- 
एक प्रत्यक्षदर्शी मिला है, जिसने बच्चे को एक संदिग्ध व्यक्ति के साथ आते-जाते देखा है। संभव है कि आरोपी को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाए।