कैलाश विजयवर्गीय को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा: मंत्री गोविंद सिंह ने कहा | MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार में दिग्विजय सिंह कैंप के सबसे सीनियर मंत्री गोविंद सिंह ने ऐलान किया है कि भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव एवं इंदौर के दिग्गज भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा। बता दें कि 2 दिन पहले कैलाश विजयवर्गीय के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया गया है। मंत्री गोविंद सिंह ने कहा कि यह सरकार इतनी कमजोर नहीं कि कैलाश विजयवर्गीय को गिरफ्तार ना कर पाए। याद दिला दें कि इससे पहले बल्ला मार मामले में कैलाश विजयवर्गीय के विधायक बेटे आकाश विजयवर्गीय को भी गिरफ्तार किया गया था।

कांग्रेसी नेता के यहां नौकरी करते थे कैलाश विजयवर्गीय, करोड़ों कहां से आए

कमलनाथ सरकार के वरिष्ठ मंत्री गोविंद सिंह ने कहा कि कैलाश विजयवर्गीय को पहले अपने चेहरा देखना चाहिए, वो अपने गिरेबान में झांक कर देखें। पहले वो कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता के यहां नौकरी करते थे। और भाषण दे रहे हैं, जिनके पास पहले साइकिल नहीं थो वो अब गाड़ियों में घूम रहे हैं। गोविंद सिंह ने कैलाश विजयवर्गीय से पूछा कि उनके घर में कौन सा सोने का पेड़ लगा था जो उनके पास करोड़ों की संपत्ति है। 

कैलाश विजयवर्गीय के खिलाफ धाराएं बढ़ेंगे, गिरफ्तारी की जाएगी

मंत्री गोविंद सिंह ने कहा कि कैलाश विजयवर्गीय ने महापौर रहते हुए पेंशन घोटाला किया है। जांच में भी वह दोषी पाए गए हैं। उनके खिलाफ अब मध्यप्रदेश शासन कार्रवाई करेगी। गोविंद सिंह ने कहा कि उन्होंने जो सांप्रदायकि भावनाएं भड़काने और इंदौर में आग लगाने की धमकी दी है। उसमें उनके विरूद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी। कब तक होगी कार्रवाई के सवाल पर गोविंद सिंह ने कहा कि अभी मामले की पूरी जांच नहीं हुई है। जांच के बाद धाराएं और बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि ये सब कुछ जल्द होगा, उऩकी गिरफ्तारी भी जल्द होगी। सरकार इतनी भी कमजोर नहीं है कि उनको गिरफ्तार नहीं कर पाए। 

मामला क्या है 
इंदौर में कमिश्नर से मिलने पहुंचे कैलाश विजयवर्गीय ने मुलाकात ना हो पाने की स्थिति में कहा था कि " संघ के लोग यहां मौजूद है नहीं तो इंदौर में आग लगा देता।" मामला दर्ज होने के बाद नीमच में भी कैलाश विजयवर्गीय ने प्रशासनिक अधिकारियों को लेकर अभद्रतापूर्ण बयान दिया।