Loading...

कर्मचारियों के महंगाई भत्ते के लिए तैयारियां अंतिम चरण में | MP EMPLOYEE NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने 10 लाख कर्मचारियों और पेंशनर्स के लिए केंद्र के समान महंगाई भत्ता देने हेतु तैयारियां पूरी कर ली है। वित्त विभाग के अनुसार कर्मचारियों का 2% महंगाई भत्ता तत्काल बढ़ाया जा सकता है परंतु शेष 3% महंगाई भत्ते के लिए अतिरिक्त प्रबंध करने होंगे। सरकारी सूत्रों का कहना है कि 31 मार्च 2020 तक कर्मचारियों एवं सेवानिवृत्त कर्मचारियों को महंगाई भत्ता व महंगाई राहत की घोषणा कर दी जाएगी। बता दें कि केंद्र सरकार अपने कर्मचारियों को 17% महंगाई भत्ता दे रही है। मध्य प्रदेश सरकार को केंद्र के समान DA देना है, फिलहाल मध्यप्रदेश में 12% महंगाई भत्ता दिया जा रहा है।

कैबिनेट में प्रस्ताव आते ही मंजूर हो जाएगा

कांग्रेस के प्रवक्ता भूपेंद्र गुप्ता का कहना है कमलनाथ सरकार कर्मचारियों के प्रति संवेदनशील है। कर्मचारियों के साथ ही लाखों पेंशनधारियों को भी इसका फायदा मिले इस दिशा में सरकार सकारात्मक रूप से विचार कर रही है। जैसे ही यह प्रस्ताव कैबिनेट में आएगा इसे मंजूर कर लिया जाएगा।

कर्मचारियों को प्रताड़ित कर रही है कमलनाथ सरकार

महंगाई भत्ता पांच फीसदी बढ़ाने की सुगबुगाहट पर बीजेपी का कहना है कि राज्य में कांग्रेस सरकार आने के बाद से कर्मचारी-अधिकारी पीड़ित और प्रताड़ित हैं। चाहें वेतन की बात हो या अन्य मुद्दे हों, सरकार असंवेदनशील बनी हुई है। कई स्थाई और संविदा कर्मचारियों को चार महीने से तनख्वाह (वेतन) नहीं मिल रही है। वो परेशान हैं दूसरी तरफ केंद्र के समान भत्ते देने की जो परंपरा चली आ रही है सरकार ने उसे भी पूरा नहीं किया। नॉन फायनेंशियल मांगें तक पूरी नहीं की गयी हैं। सरकारी कर्मचारी के मामले में सरकार बस शिगूफाबाजी कर रही है।